महारानी ने भारतीय नृत्यांगना अरुणिमा से नृत्य की मुद्राएं सीखीं

लंदन। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय यहां बकिंघम पैलेस में जब प्रख्यात नृत्यांगना और कोरियोग्राफर अरुणिमा कुमार से मिलीं तो उनसे भारतीय नृत्य की कुछ मुद्राएं सीखने से खुद को रोक नहीं पाईं। 90 वर्षीय महारानी ने ब्रिटेन-भारत संस्कृति उत्सव-2017 के शुभारंभ के अवसर पर सोमवार शाम को एक विशेष समारोह का आयोजन किया। समारोह में अरुणिमा ने एक अनूठे नृत्य ‘एकम’ के लिए कोरियोग्राफी की थी।

अरुणिमा ने कहा, ‘‘मैं महारानी से मिली और उन्होंने वास्तव में मेरे साथ नृत्य की मुद्राएं कीं। उन्होंने मुझसे पूछा कि मैं इन सभी मुद्राओं को कैसे कर लेती हूं क्योंकि इन्हें करना बहुत मुश्किल है। मैंने उन्हें हाथ के इशारे से की जाने वाली मुद्राएं कर के दिखाईं और फिर उन्होंने भी ऐसा ही किया। उस पल को मैं पूरी जिंदगी याद रखूंगी।’’ ब्रिटेन में रह रहीं नृत्यांगना ने कहा, ‘‘वह बहुत अद्भुत इंसान हैं। वह हर चीज के बारे में सबकुछ जानती हैं। वह हमारी कला के बारे में हमसे इतनी आसानी से बात कर रही थीं और इसे इस तरह से आत्मसात कर रही थीं। वह बहुत ही विशेष पल था और यह पल मुझे, मैं जो कर रही हूं वह करते रहने के लिए..इससे भी बेहतर करने के लिए प्रेरित करता है।’’

दिल्ली के पूर्व पुलिस आयुक्त नीरज कुमार की बेटी अरुणिमा ने कुचिपुड़ी नृत्य पर भी प्रस्तुति दी। उन्होंने कहा, ‘‘हमें यह सोचकर उपलब्धि और सम्मान की भावना महसूस होती है कि हम सभी नर्तकों के साथ बकिंघम पैलेस में भारतीय कला को लेकर आए। यह ऐसा पल है जिसे हम हमेशा याद रखेंगे। हमने सिर्फ हमारे लिए नहीं बल्कि भारत के लिए भी इतिहास रचा है।’’ समारोह में भारत और ब्रिटेन के विभिन्न क्षेत्रों से कई जानी-मानी हस्तियों ने हिस्सा लिया। भारत सरकार का प्रतिनिधित्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने किया। मंत्री ने कहा, ‘‘यह भारत-ब्रिटेन के रिश्ते के महत्व को फिर से रेखांकित करता है।’’ समारोह में जेटली के अलावा स्टार खिलाड़ी कपिल देव, अभिनेता कमल हासन, सुरेश गोपी, गायक गुरदास मान, फैशन डिजाइनर मनीष अरोड़ा, मनीष मल्होत्रा और कोरियोग्राफर शामक डावर और उद्योगपति रतन टाटा भी मौजूद थे।

Leave a Reply