भारत ने पाकिस्तान के सामने धर्मगुरूओं के लापता होने का मुद्दा उठाया

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज कहा कि हजरत निजामुद्दीन दरगाह के सज्जादा नशीन और उनके भतीजे के लापता होने का मुद्दा भारत ने पाकिस्तान के समक्ष उठाया है.

नई दिल्ली : विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज कहा कि हजरत निजामुद्दीन दरगाह के सज्जादा नशीन और उनके भतीजे के लापता होने का मुद्दा भारत ने पाकिस्तान के समक्ष उठाया है. वह दोनों पाकिस्तान से लापता हो गए हैं.

पाकिस्‍तान जाकर लापता हो गए दिल्‍ली की हजरत निजामुद्दीन दरगाह के दो मौलवी

कराची एयरपोर्ट पर दो धर्मगुरु लापता

स्वराज ने कहा कि कराची हवाईअड्डे पर उतरने के बाद सैयद आसिफ निजामी और उनके भतीजे नाजिम निजामी लापता हैं. पाकिस्तान की सरकार से दोनों भारतीय नागरिकों के बारे में जानकारी मांगी गई है.

सुषमा स्वराज ने मांगी जानकारी

स्वराज ने ट्वीट किया, ‘हमने यह मुद्दा पाकिस्तान की सरकार के समक्ष उठाया और उनसे पाकिस्तान में दोनों भारतीय नागरिकों के बारे में जानकारी मांगी. कराची हवाईअड्डे पर उतरने के बाद से वह लापता हैं.’80 वर्षीय सैयद आसिफ निजामी हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह के सज्जादानशीन हैं.

धर्मगुरु 8 मार्च को गए थे पाकिस्तान

स्वराज ने बताया, ‘80 वर्षीय सैयद आसिफ निजामी और उनके भतीजे नाजिम अली निजामी आठ मार्च 2017 को पाकिस्तान गए थे.’वह दोनों लाहौर में मशहूर दाता दरबार दरगाह गए थे जहां से उन्हें बुधवार को कराची के लिए विमान यात्रा करनी थी.

दरगाह जाने के लिए लाहौर यात्रा पर निकलने से पहले दोनों अपने रिश्तेदारों से मिलने आठ मार्च को कराची गए थे. निजामुद्दीन दरगाह और दाता दरबार के बीच उलेमाओं के आने जाने का सिलसिला परंपरा का एक हिस्सा है.

Leave a Reply