काला धन खुलासे के लिए हर्वे ने भारत से मांगी मदद



नई दिल्ली। एचएसबीसी बैंक के व्हिस्लब्लोअर हर्वे फाल्सियानी ने सोमवार को कहा कि अगर उन्हें सुरक्षा मिले, तो वह काला धन मामले की जांच में भारतीय जांच एजेंसियों की मदद करने को तैयार हैं। राष्ट्रीय राजधानी में संवाददाताओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग से संबोधित करते हुए फाल्सियानी ने कहा, “भारतीयों द्वारा विदेशी बैंकों में जमा किए गए काले धन के बारे में उनके पास बहुत सारी जानकारियां हैं, लेकिन इसके लिए मुझे सहयोग व भारतीय जांच एजेंसियों के समर्थन की जरूरत है”
उन्होंने कहा, “यदि मैं जांचकर्ताओं की मदद के लिए भारत आता हूं, तो मुझे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। समन्वय की कमी के कारण मैं सूचनाएं साझा करने में सक्षम नहीं हूं।”
फाल्सियानी एचएसबीसी बैंक के जेनेवा शाखा से खाता धारकों के विवरण को लीक करने के आरोपों का सामना कर रहे हैं। बाद में खाताधारकों की सूची फ्रांस सरकार के हाथ लगी, जिसने भारतीय खाताधारकों के नाम को भारत के साथ साझा किया।
उन्होंने कहा कि प्रत्येक साल लाखों करोड़ रुपये भारत, रूस, ब्राजील व अर्जेटिना जा रहा है।
उन्होंने कहा, “हम आर्थिक युद्ध के दौर में हैं और अपनी जमीन बचाने के लिए सूचना ही एकमात्र हथियार है। भारत जैसे देश् के लिए व्हिस्लब्लोअर की सुरक्षा आवश्यक है।”

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache