लोग मेरे नर्सरी के रिकॉर्ड मांगने के लिए भी स्वतंत्र हैं: स्मृति

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी सीआईसी के उस आदेश से बुधवार को बेफिक्र दिखीं जिसमें सीबीएसई से कक्षा दसवीं और 12वीं के उनके रिकॉर्ड की जांच की इजाजत देने को कहा गया है। स्मृति ने कहा कि लोग नर्सरी के उनके रिकॉर्ड भी मांगने को स्वतंत्र हैं। स्मृति ने इस मुद्दे पर एक सवाल के जवाब में कहा कि आप नर्सरी का भी मांग लो। सीआईसी ने मंगलवार को सीबीएसई की यह दलील खारिज कर दी थी कि उनकी शैक्षिक योग्यता में निजी सूचना शामिल है।

सूचना आयुक्त श्रीधर आचार्युलू ने कहा था कि यह कहना सही नहीं है कि एक बार किसी छात्र के कोई परीक्षा उत्तीर्ण कर लेने और एक प्रमाणपत्र के लिए क्वालिफाई कर लेने के बाद नतीजे के बारे में सूचना उसका या उसकी निजी सूचना हो जाएगी या निजता का उल्लंघन होगी। आचार्युलू ने कहा कि अगर प्रवेश पत्र में पता, संपर्क नंबर (कॉन्टेक्ट नंबर) या ईमेल आईडी जैसी निजी सूचना है, वह उम्मीदवार की निजी सूचना है और वह नहीं दी जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि यद्यपि यदि नतीजे में प्रमाणपत्र, प्राप्त डिवीजन, साल और उसके पिता का नाम है, उसे निजी या तीसरे पक्ष की सूचना के तौर नहीं लिया जा सकता। उन्होंने एक आदेश में कहा कि जब कोई जनप्रतिनिधि अपनी शैक्षिक योग्यता की घोषणा करता है, मतदाता को उस घोषणा की जांच करने का अधिकार है।

Leave a Reply