राज्य को ‘रिमोट कंट्रोल से चलने वाला’ CM नहीं चाहिए: अकाली दल



नई दिल्ली। पंजाब विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित नहीं किए जाने को लेकर सत्तारूढ़ शिरोमणि अकाली दल ने इन पर निशाना साधते हुए आज कहा कि राज्य को ‘रिमोट कंट्रोल से चलने वाला’ मुख्यमंत्री नहीं चाहिए और इन दोनों पार्टियों ने आलाकमान से थोपे गए व्यक्ति को मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठाने की योजना बना रखी है। राज्य की सभी 117 सीटों पर चार फरवरी को मतदान होना है। अभी तक कांग्रेस और आप ने स्पष्ट नहीं किया है कि सरकार बनने की स्थिति में उनकी ओर से मुख्यमंत्री कौन होगा।

कांग्रेस के प्रचार अभियान का नेतृत्व कैप्टन अमरिंदर सिंह कर रहे हैं तो आप की तरफ से प्रचार का मोर्चा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल संभाले हुए हैं। अकाली दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा, ‘‘कांग्रेस और आप पंजाब में आलाकमान से थोपे गए व्यक्ति को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं। पंजाब के लोगों को इनकी इस योजना के बारे में पता चल चुका है और जनता इन दोनों पार्टियों को सबक सिखाएगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पंजाब के लोग रिमोट कंट्रोल से चलने वाला मुख्यमंत्री नहीं चाहते। लोग एक सख्त नेतृत्व चाहते हैं जो पंजाब को आगे ले जा सके और राज्य के सामने खड़ी चुनौतियों का मुकाबला कर सके। इन दोनों पार्टियों के पास ऐसा कोई नेतृत्व नहीं है। अकाली दल ने यह साबित किया है कि पंजाब के लिए उसके पास सक्षम नेतृत्व है। यही बात अकाली दल को कांग्रेस और आप से अलग करती है।’’

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache