बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ व्यापक आंदोलन छेड़ेगी भाजपा

कोलकाता। बंगाल में भाजपा ने नोटबंदी पर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के साथ अपने राजनीतिक टकराव को भुनाने के लिए इस राज्य में उसके ‘कुशासन’ के खिलाफ एक ‘व्यापक आंदोलन’ शुरू करने का निर्णय किया है। यह निर्णय दो दिवसीय भाजपा राज्य समिति की बैठक में किया गया।

भाजपा महासचिव और राज्य प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, ”बंगाल के ज्यादातर जिलों में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह से चरमरा गई है। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रही हैं। हम तृणमूल कांग्रेस के कुशासन के खिलाफ राज्यभर में व्यापक आंदोलन छेड़ेंगे।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल जिहादियों के लिए एक सुरक्षित पनाहगाह बन गया है क्योंकि बंगाल में कानून व्यवस्था पूरी तरह से विफल हो गई है।

भाजपा के सूत्रों के मुताबिक, रोजवैली चिटफंड घोटाले की सीबीआई जांच और तृणमूल कांग्रेस के सांसदों सुदीप बंदोपाध्याय एवं तपस पाल की गिरफ्तारी से इस पार्टी को ‘‘बंगाल में भाजपा और तृणमूल के बीच राजनीतिक मैक्स फिक्सिंग’’ का टैग हटाने का अति आवश्यक अवसर मिल गया है। एक वरिष्ठ भाजपा नेता ने बताया, ”पिछले दो सालों से माकपा और कांग्रेस के इस कुप्रचार से कि तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच राजनीतिक मैच फिक्सिंग है, हमें भारी खामियाजा भुगतना पड़ा। अब बंगाल में मुख्य विपक्षी पार्टी बनकर उभरने का समय आ गया है।’’

Leave a Reply