शराब मुक्त महाराष्ट्र के लिए अभियान शुरू करेंगी तृप्ति देसाई

मुंबई। भूमाता ब्रिगेड की प्रमुख और लैंगिक अधिकारों के लिए आवाज उठाने वाली कार्यकर्ता तृप्ति देसाई ने अब शराब मुक्त महाराष्ट्र के लिए एक नया अभियान शुरू करने का निर्णय लिया है। तृप्ति देसाई महिलाओं को उनके लिए प्रतिबंधित पूजा स्थलों पर प्रवेश दिलाने की खातिर आंदोलन की अगुवाई कर सुर्खियों में आयी थीं।

तृप्ति ने आज बताया, ‘‘मैं जल्द ही राज्यव्यापी अभियान शुरू करने जा रही हूं और यह पुणे से शुरू करूंगी। अधिकतर पुरूष शराब पीते हैं लेकिन महिलाएं इससे सबसे ज्यादा प्रभावित होती हैं। शराब के सेवन से घरेलू हिंसा में भी बढ़ोतरी होती है, ऐसे में मैं ‘ताईगीरी’ समूह बनाने की इच्छुक हूं जो इस तरह के मामलों से पीड़ित महिलाओं को अपना समर्थन देगा।’’ देसाई ने कहा, ‘‘अगर चंद्रपुर जैसा एक जिला शराब पर सफलतापूर्वक पाबंदी लगा सकता है तो पूरा महाराष्ट्र राज्य इसका पालन क्यों नहीं कर सकता है।

उन्होंने कहा कि अगर सभी जिलों के संरक्षक मंत्री इस प्रक्रिया की शुरूआत करते हैं तो कुछ दिनों में शराब पर प्रतिबंध लग सकता है। देसाई ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार शराब के सेवन जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर ध्यान नहीं दे रही है और इसका प्रभाव राज्य में लोगों पर, विशेषकर महिलाओं के जीवन पर पड़ता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ब्रिगेड के सदस्यों के साथ बैठकों के बाद मैं जल्द ही अभियान की शुरूआत कर दूंगी।’’ देसाई ने चेतावनी दी, ‘‘पूरे राज्य में अपने अभियान के दौरान मैं महात्मा गांधी के पथ का अनुसरण करने जा रही हूं। अगर राज्य सरकार उचित कदम उठाने में असफल रही तब मैं अनिश्चित काल के लिए आंदोलन शुरू करूंगी।’’

Leave a Reply