धूम्रपान हुआ महँगा, यात्रा हुई सस्ती

नई दिल्ली। धूम्रपान करने और तंबाकू खाने वालों को अब ज्यादा जेबें ढीली करनी होगी। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 2017-18 के अपने बजट में सिंगरेट और तंबाकू उत्पादों पर कर बढ़ाने का प्रस्ताव किया है। हालांकि वित्त मंत्री ने सोलर टेम्पर्ड ग्लास, फ्यूल सेल आधारित बिजली उत्पादन प्रणाली पवन ऊर्जा चालित ऊर्जा इकाइयों पर शुल्क कटौती कर स्वच्छ ऊर्जा को सस्ता बनाने का प्रयास किया है।

बजट प्रस्तावों से निम्ललिखित चीजें महंगी होगी-

-सिगरेट, पान मसाला, सिगार, बीड़ी, चिलम और खनी।
-एलईडी लैंप उपकरण।
-काजू (सेंका हुआ और नमकीन)
-अल्यूमीनियम खनिज और सांद्रण।
-आप्टिकल फाइबर के विनिर्माण में उपयोग होने वाले पालीमर कोटेड एमएस टेप।
-चांदी के सिक्के और मेडल।

बजट प्रस्तावों से निम्नलिखित चीजें सस्ती होंगी।

-आनलाइन रेलवे टिकट की बुकिंग।
-घरों में उपयोग होने वाले आरओ मेम्ब्रेन
-एलएनजी।
-सौर पैनलों में उपयोग होने वाले सोलर टेम्पर्ड ग्लास।
-पवन ऊर्जा चालित जनरेटर।
-चमड़ा उत्पादों विनिर्माण में शोधन के लिये काम आने वाले वनस्पति।
-पीओएस मशीन कार्ड और अंगुली के निशान को पढ़ने वाली मशीन।
-रक्षा सेवाओं के लिये सामूहिक बीमा।

Leave a Reply

1 Trackback


    Warning: call_user_func() expects parameter 1 to be a valid callback, function 'blankslate_custom_pings' not found or invalid function name in /home/content/81/11393681/html/tevartimes/wp-includes/class-walker-comment.php on line 180