बजट भविष्य को पेश करने, सभी के सपने साकार करने वाला: मोदी



नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को पेश बजट को ‘भविष्योन्मुखी’ करार देते हुए कहा कि यह बजट गांवों, गरीबों, किसानों, दलितों, पीड़ितों, शोषितों, वंचितों, युवाओं और महिलाओं की आशा आकांक्षाओं को पूरा करेगा, साथ ही रोजगार सृजन, पारदर्शिता, ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों का विकास सुनिश्चित करेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि बजट सरकार की ओर से पिछले ढाई वषरे में किये गए कार्यो और भविष्य में उठाये जाने वाले कदमों के बीच कड़ी है जो देश को विकास के पथ पर आगे ले जायेगा।

वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा आज लोकसभा में वर्ष 2017-18 का बजट पेश करने के बाद मोदी ने कहा, ‘यह हमारे भविष्य का बजट है, नई पीढ़ी का बजट है, किसानों का बजट है, शहरी और ग्रामीण विकास तथा उद्यमिता को आगे बढ़ाने वाला बजट है।’ जेटली द्वारा पेश बजट को ‘अच्छा’ करार देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह देश का तीव्र विकास सुनिश्चित करेगा, रोजगार के नये अवसर पैदा करेगा और किसानों की आय को दोगुना करेगा।’ उन्होंने कहा कि इससे गांव की स्थिति में बहुत बड़ा बदलाव आयेगा, गांव के लोगों की जीवन शैली में बदलाव आयेगा और उनकी वित्तीय स्थिति भी बदलेगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बजट प्रस्ताव के माध्यम से राजकोषीय घाटे को बढ़ाये बिना मध्यम वर्ग की आय में वृद्धि करने का प्रयास किया गया है। मोदी ने कहा कि यह बजट गांवों, गरीबों, किसानों, दलितों, पीड़ितों, शोषितों, वंचितों, युवाओं और महिलाओं की आशा, आकांक्षाओं को पूरा करेगा, साथ ही रोजगार सृजन, पारदर्शिता, ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों का विकास सुनिश्चित करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘यह बजट एक बार फिर से गांव, गरीब और किसानों के कल्याण को समर्पित है। सरकार देश को आगे ले जाने को प्रतिबद्ध है और यह स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है।’ उन्होंने कहा, ‘रेलवे के आधुनिकीकरण से आर्थिक सुधारों तक, शिक्षा से स्वास्थ्य और उद्यमिता से उद्योग तक सभी के सपनों को साकार करने की बजट की दृष्टि स्पष्ट रूप से दिखाई देती है।’ मोदी ने कहा कि मनरेगा के साथ महिला कल्याण के लिए रिकार्ड आवंटन किया गया है।

बजट में भ्रष्टाचार और कालाधन समाप्त करने की प्रतिबद्धता स्पष्ट रूप से प्रदर्शित होने को रेखांकित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इसमें डिजिटल अर्थव्यवस्था के लिए समग्र पैकेज प्रदान किया गया है जो कर चोरी और कालाधन पर लगाम लगाने में मदद करेगा। आम लोगों के लिये व्यक्तिगत आयकर दर में कमी लाने का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि मध्यम वर्ग को राहत प्रदान करने का सरकार ने यह ‘साहसिक’ कदम उठाया है।

राजनीतिक दलों को वित्त पोषण के मुद्दे का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह राजनीति को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि आम बजट के साथ रेल बजट का विलय करने से इस क्षेत्र को गति प्रदान करने में मदद मिलेगी। मोदी ने कहा कि युवाओं के लिए बजट में विशेष व्यवस्था की गई है, साथ ही लघु, मध्यम एवं सूक्ष्म उद्यम क्षेत्र में कर में कमी करने से छोटे कारोबारियों को मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि बजट प्रस्ताव में आवास क्षेत्र को गति प्रदान करने पर विशेष ध्यान दिया गया है।

Leave a Reply

1 Trackback

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache