55 साल पहले भारत सीमा में घुसा था चीनी फौजी, अब वतन में वापसी



नई दिल्ली। चीनी दूतावास के प्रतिनिधिमंडल ने वर्ष 1962 के भारत-चीन युद्ध के खत्म होने के तुरंत बाद भारतीय सीमा में घुसते हुए पकड़े गए और रिहाई के बाद मध्य प्रदेश के बालाघाट जिले में बस गए चीन के सैनिक वांग की से शनिवार को मुलाकात की। 77 साल के वांग लंबे वक्त से चीन यात्रा पर जाना चाहते हैं। उनके बेटे विष्णु वान (35) ने बालाघाट में बताया कि भारत में स्थित चीन के दूतावास के तीन अधिकारियों ने मेरे पिता से मुलाकात की और एक घंटे से अधिक समय उनसे बातें कीं।

उन्होंने उन्हें चीन की यात्रा के लिए हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। पत्नी और तीन बच्चों के साथ बालाघाट जिले के तिरोडी क्षेत्र में रहने वाले वांग के परिवार के अनुसार, वह भारत सरकार की अनुमति के अभाव के कारण बीते पांच दशक से चीन की यात्रा नहीं कर पाए हैं। विष्णु ने बताया कि मेरे पिता वर्ष 1960 में चीन की सेना में शामिल हुए थे और वह एक रात अंधेरे में अपना रास्ता भटककर पूर्वी सीमांत होते हुए भारत में घुसे थे।

Leave a Reply

1 Trackback

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache