शशिकला ने कहा मैं धमकियों के आगे घुटने नहीं टेकूंगी



चेन्नई। ओ पन्नीरसेल्वम के विद्रोह का सामना कर रहीं अन्नाद्रमुक महासचिव वीके शशिकला ने आज कहा कि उन्हें कुछ दिन पहले ही उनके इरादों की भनक लग गई थी, लेकिन पार्टी एकजुट है एवं वह ऐसी धमकियों के सामने घुटने नहीं टेकेंगी। शशिकला ने कहा कि अन्नाद्रमुक में ‘विश्वासघात’ कभी नहीं जीतेगा और उन्होंने प्रतिद्वंद्वी द्रमुक पर उनकी पार्टी को अस्थिर करने का आरोप लगाया। उन्होंने पार्टी में अपना महत्व बढ़ने का जिक्र करते हुए कहा कि अब तक नजर नहीं आने वाला विपक्ष अब उभरकर सामने आया है जो इस बात का सबूत है कि कुछ ऐसी घटनाएं, जो हमारे प्रतिद्वंद्वी नहीं चाहते हैं, पार्टी में हो रही हैं।

उन्होंने मंगलवार रात उनके विरूद्ध पन्नीरसेल्वम द्वारा बगावत का झंडा उठाये जाने से उत्पन्न स्थिति की चर्चा के लिए यहां बुलायी गयी पार्टी विधायकों की बैठक में कहा, ‘‘इस बेचैनी की वजह यही है, लेकिन अन्नाद्रमुक और मैं इसके सामने झुकेंगे नहीं।’’ शशिकला ने कहा कि उन्होंने हाल ही में पन्नीरसेल्वम द्वारा विधानसभा में बातचीत के बाद द्रमुक के साथ हाथ मिलाने को संज्ञान में लिया है लेकिन वह इस घटनाक्रम के अगले कदम को रोकने के लिए वचनबद्ध हैं। संभवत: इस बात से उनका इशारा बगावत की तरफ था।

दूसरी ओर, शशिकला के खिलाफ विद्रोह का परचम उठाने के एक दिन बाद तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वम के घर पर बड़ी संख्या में पार्टी समर्थक अपनी एकजुटता जताने पहुंच रहे हैं। ग्रीनवेज रोड स्थित पनीरसेल्वम के घर पर कई कार्यकर्ता अपना समर्थन व्यक्त करने पहुंचे। उनके यहां रात से ही कई मंत्री और सरकारी अधिकारी पहुंचने लगे थे। सफेद शर्ट और धोती पहने पार्टी कार्यकर्ता पनीरसेल्वम से मिलने पहुंच रहे हैं। इन कार्यकर्ताओं की शर्ट की जेब में दिवंगत पार्टी नेता जयललिता की तस्वीर लगी थी। कार्यकर्ता ‘अम्मा’ (जयललिता) की प्रशंसा में नारे लगा रहे थे और कह रहे थे कि वो कभी किसी को ‘चिनम्मा’ (शशिकला के संदर्भ में) नहीं कहेंगे।

इलाके में लगे पोस्टर और बैनरों पर ‘‘अन्नाद्रमुक पार्टी बचाओ’’ और ‘‘ओपीएस को मुख्यमंत्री बनाओ’’ लिखा है। एक अन्य पोस्टर पर लिखा है, ‘‘अम्मा के आशीर्वाद से, ओपीएस को महासचिव बनाया जाए।’’ जब भी कोई महत्वपूर्ण व्यक्ति मुख्यमंत्री से मिलने उनके घर जाता तो समर्थकों की नारेबाजी तेज हो जाती और वे ‘‘ओपीएस वाझगा, ओपीएस वाझगा’’ (ओपीएस जिंदाबाद) के नारे लगाने लगते। पनीरसेल्वम से मिलने वालों में अन्नाद्रमुक के राज्यसभा सांसद मैत्रेयन, पूर्व बिजली मंत्री ‘नाथम’विश्वनाथन, अभिनेता और निर्देशक के भाग्यराज शामिल थे। पनीरसेल्वम के घर पहुंचे कार्यकर्ताओं को नाश्ता भी कराया गया।

Leave a Reply

1 Trackback

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache