गोवा में मनोहर पर्रिकर ने हासिल किया विश्वास मत, समर्थन में 22 और विरोध में 16 वोट

गोवा में मनोहर पर्रिकर आज सदन में बहुमत साबित कर दिया.

नई दिल्‍ली: मनोहर पर्रिकर ने गोवा विधानसभा में बहुमत हासिल कर लिया है. उन्होंने शक्ति परीक्षण के दौरान 22 सदस्यों का समर्थन हासिल किया जबकि विरोध में 16 वोट पड़े. कांग्रेस विधायक विश्वजीत राणे ने वोटिंग नहीं किया और वह वोटिंग से बाहर रहे. उन्होंने मंगलवार को गोवा के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी.

बहुमत के बाद बोले मनोहर पर्रिकर

विश्वास मत हासिल करने के बाद पर्रिकर ने कहा कि कांग्रेस के पास शुरू से ही बहुमत नहीं था. हमारे पास बहुमत था हमने बहुमत हासिल किया. गौर हो कि गोवा में बीजेपी को बहुमत के लिए 21 वोटों की जरूरत थी जबकि उन्हें 22 विधायकों का समर्थन हासिल हुआ. लिहाजा वह सदन में बहुमत साबित करने में कामयाब रहे.

रक्षा मंत्री के पद से इस्‍तीफा

गौरतलब है कि पर्रिकर ने सोमवार को रक्षा मंत्री के पद से इस्‍तीफा दे दिया है. उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना इस्‍तीफा सौंपा. पीएमओ ने उसके इस्‍तीफे को मंजूरी के लिए राष्‍ट्रपति के पास भेजा. राष्‍ट्रपति की इस पर मुहर के बाद वित्‍त मंत्री अरुण जेटली को रक्षा मंत्रालय का अतिरिक्‍त प्रभार दे दिया गया है. जेटली के पास पहले के पास पहले भी इस मंत्रालय का प्रभार था लेकिन बाद में मनोहर पर्रिकर के रक्षा मंत्री बनने के बाद उन्‍होंने इस प्रभार को छोड़ दिया था. इससे पहले गोवा विधानसभा चुनाव के बाद तेजी से बदले सियासी घटनाक्रम में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने रक्षा मंत्री के पद से इस्‍तीफा दे दिया.

मृदुला सिन्हा ने दिया था सरकार बनाने का न्यौता

दरअसल इससे पहले गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने भाजपा नेता और केंद्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को सरकार बनाने का न्‍योता दिया. पर्रिकर ने रविवार को ही राज्‍यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया था. राज्‍यपाल ने शपथ ग्रहण के बाद 15 दिनों के भीतर पर्रिकर को बहुमत साबित करने को कहा है.

24 मार्च को बजट पेश करेंगे पर्रिकर

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर 24 मार्च को राज्य विधानसभा में बजट पेश करेंगे. इस बारे में उन्होंने कहा कि यह भाजपा नीत सरकार के ‘विचार’ का संकेत होगा. पर्रिकर ने कहा कि बजट की प्राथमिकता राज्य की अर्थव्यवस्था की स्थिरता होगी.

Leave a Reply