दिल्ली के होटल में लगी आग, धोनी समेत कई खिलाड़ी सुरक्षित, विजय हजारे ट्रॉफी का मैच स्थगित



दिल्ली के द्वारका स्थित वेलकम होटल में लगी आग में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी व अन्य खिलाड़ियों बाल-बाल बच गए.

नई दिल्लीः दिल्ली के द्वारका स्थित ITC वेलकम होटल में लगी आग में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी व अन्य खिलाड़ियों बाल-बाल बच गए, इस आग में इन खिलाड़ियों व झारखंड के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की किट जलकर राख हो गई.

धोनी और टीम के उनके साथी आईटीसी वेलकम होटल में नाश्ता कर रहे थे जब आपात स्थिति में उन्हें बचाया गया. पुलिस सूत्रों के अनुसार होटल में लगभग 540 अतिथि थे. होटल ने तुरंत कार्रवाई करते हुए धोनी समेत अन्य खिलाड़यों को सुरक्षित निकाल लिया.
झारखंड के कोच राजीव कुमार ने कहा, ‘‘हां, यह डरावना था क्योंकि सुबह तड़के आग लगी. हमें होटल से बाहर निकाला गया और मैदान में लाया गया.’’ मैच रैफरी ने मैच स्थगित करने का फैसला किया क्योंकि टीम की किट होटल में थी और मैच शुरू नहीं किया जा सकता था. दोनों टीमें मैदान पर थी लेकिन झारखंड के खिलाड़ी मानसिक रूप से परेशान थे इसलिए बीसीसीआई ने उन्हें मानसिक रूप से उबरने के लिए एक दिन का समय दिया.

इस घटना के बाद बंगाल के खिलाफ टीम का विजय हजारे ट्राफी सेमीफाइनल स्थगित कर दिया गया. मैच रैफरी संजय वर्मा ने मैच स्थगित करने की घोषणा की जिसके बाद पालम के वायुसेना मैदान पर होने वाला यह मैच अब कल फिरोजशाह कोहला मैदान पर होगा.

बंगाल की युवा टीम को धोनी से निपटने के टिप्स दे रहे हैं गांगुली

झारखंड के एक खिलाड़ी ने पीटीआई से कहा, ‘‘जब हम रेस्टोरेंट में नाश्ता कर रहे थे तो धुएं की दम घोटने वाली बदबू आने लगी जिसके बाद हम जान बचाने के लिए भागे.’’

दिल्ली दमकल विभाग के सीनियर अधिकारी ने बताया, ‘‘सुबह लगभग साढ़े छह बजे वेलकम होटल में आग लगने का फोन आया. दमकल की 30 गाड़ियां मौके पर भेजी गई और सुबह नौ बजकर 45 मिनट पर आग पर काबू पाया गया.’’

पुलिस ने कहा कि रिलायंस के शोरूम में सबसे पहले आग लगी थी. आग लगने का कारण पता करने के लिए आगे की जांच की जा रही है.

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache