सीरीज जीतने के बाद गरजे कोहली, हम जैसे को तैसा देने में माहिर



कोई हमें उकसाता है तो हम माकूल जवाब देते हैं : कोहली (PIC : BCCI)

धर्मशाला : भारतीय कप्तान विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया पर मिली 2-1 से जीत को अपनी टीम की सर्वश्रेष्ठ सीरीज जीत करार देते हुए कहा कि कोई उनकी टीम को उकसाता है तो वे माकूल जवाब देने में माहिर हैं.
टीम इंडिया ने 8 विकेट से जीता धर्मशाला टेस्ट, ऑस्ट्रेलिया से 2-1 से जीती सीरीज

कोहली ने चौथे टेस्ट के बाद स्टार स्पोर्ट्स से कहा,‘‘हमारा पलड़ा मैच में भारी हो या नहीं, यदि कोई हमें उकसायेगा तो हम माकूल जवाब देंगे. सभी को यह हजम नहीं होता लेकिन हम जैसे को तैसा में माहिर हैं.’’ ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने पूरी सीरीज में कोहली को निशाना बनाया लेकिन उन्होंने कहा कि वह इसकी परवाह नहीं करते.
इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ने विराट कोहली की नीयत में बताया खोट!

उन्होंने कहा ,‘‘कुछ लोग दुनिया के एक हिस्से में बैठकर सनसनी फैलाना चाहते हैं. उन्हें खुद इन हालात का सामना नहीं करना पड़ता. सबसे आसान काम है कि घर बैठकर ब्लॉग लिख डालो या माइक पर बोलो, लेकिन मैदान में उतरकर खेलना काफी मुश्किल है.’’ उन्होंने कहा कि वह इस टीम की कप्तानी का पूरा मजा ले रहे हैं.

विराट कोहली हैं खेलों के डोनाल्ड ट्रंप : आस्ट्रेलियाई मीडिया

उन्होंने कहा,‘‘मुझे जिम्मेदारियां लेना पसंद है. भारत के लिए हर मैच खेलते समय कुछ खास करने का मौका होता है. कार्यभार के बारे में भविष्य में सोचेंगे लेकिन अभी शरीर चुस्त है और मैं अच्छा महसूस कर रहा हूं.’ कोहली ने कहा,‘‘यह हमारी सर्वश्रेष्ठ जीत है. हम जिस तरह विश्व रैंकिंग में सातवें से पहले स्थान पर पहुंचे, वह शानदार उपलब्धि है और बतौर कप्तान मुझे गर्व है.’’

कोहली ने पूछा, ऑस्ट्रेलियन मीडिया विवाद पर ही फोकस क्यों करता है?

कोहली ने कहा,‘‘इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज प्रतिस्पर्धी थी, लेकिन जिस तरह ऑस्ट्रेलिया ने हमें चुनौती दी, वह अद्भुत था. हमारे खिलाड़ियों ने भी हार नहीं मानी और जमकर सामना किया.’’

खेल से दूर नहीं रह पा रहे घायल कोहली, इस बहाने मैदान पर पहुंचे

उन्होंने चौथे टेस्ट में कप्तानी करने वाले अजिंक्य रहाणे की तारीफ करते हुए कहा,‘‘उसने अच्छी कप्तानी की. बाहर बैठकर उसे देखना सुखद था.’’ कोहली ने कहा कि बेहतर फिटनेस के साथ टीम लंबे घरेलू सत्र में अच्छा प्रदर्शन कर सकी. उन्होंने कहा,‘‘हमने फिटनेस ट्रेनिंग में जो बदलाव किए, वे कारगर साबित हुए. पूरे सत्र में टीम अच्छा प्रदर्शन करने में कामयाब रही. अतीत में हमने आसानी से मैच गंवाए हैं, लेकिन इस सत्र में नहीं. यह टीम का सत्र था, एक या दो खिलाड़ियों का नहीं.’’

विराट को किसकी नज़र लग गई, 5 पारियों से जारी है फ्लॉप शो

भारत को मंगलवार को चौथी पारी में जीत के लिए 106 रनों की जरुरत थी, जिसे उसने चौथे दिन पहले सत्र में ही दो विकेट खोकर हासिल कर लिया. लोकेश राहुल ने नाबाद 51 रन और नियामित कप्तान विराट कोहली की गैरमौजूदगी में टीम की कमान संभाल रहे अजिंक्य रहाणे ने नाबाद 38 रन बनाए.

कोहली कंधे की चोट के कारण ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच में नहीं खेल पाए थे और इस कारण रहाणे को टीम की कमान सौंपी गई.

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache