हटाए गए ‘प्रदेश में रहना है तो योगी योगी कहना है’ के बैनर, हिंदू युवा वाहिनी ने कहा-बदनाम करने की साजिश



मेरठ : उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री का पदभार संभालने के बाद योगी आदित्यनाथ सूबे के विकास के लिए नए-नए फैसले कर रहे हैं. किसानों के हित में उन्होंने फैसले लिए हैं और कानून-व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखने पर विशेष जोर दिया है. इन सबके बीच मेरठ जिले में ऐसे बैनर सामने आए हैं जिन पर लिखा है कि प्रदेश में रहना है तो ‘योगी योगी’ कहना है. कथित रूप से ये बैनर हिंदू युवा वाहिनी की तरफ से लगाए गए हैं. हिंदू युवा वाहिनी ने कहा कि यह संगठन को बदनाम करने की साजिश है.
मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक जिला प्रशासन ने इन पोस्टरों को हटा दिया है.

पूरे प्रकरण की रिपोर्ट एलआईयू से मांगी : एसएसपी

एसएसपी जे. रविन्दर गौड़ ने बताया कि जिले में कुछ जगहों पर हिंदू युवा वाहिनी के नाम से बैनर लगे होने की उन्हें जानकारी मिली थी. इन बैनरों पर लिखा है कि ‘प्रदेश में रहना है तो य़ोगी-योगी कहना’ है. एसएसपी के अनुसार मामला संज्ञान में आने के बाद उन्होंने पूरे प्रकरण की रिपोर्ट एलआईयू से मांगी है. जांच रिपोर्ट मिलने के बाद आरोपी लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जायेगा. दरअसल, शहर में कई जगहों पर बैनर लगवाए गए हैं. इन बैनरों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ही युवा वाहिनी के जिला अध्यक्ष नीरज शर्मा पांचली का फोटो लगा है. एक होर्डिंग पर लिखा है, ‘प्रदेश में रहना है तो योगी-योगी कहना है.’

CM योगी आदित्यनाथ ने दी सौगात, उत्तर प्रदेश के हर जिले को दीं 2 हाईटेक ICU एंबुलेंस

उधर, हिंदू युवा वाहिनी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य और संभाग प्रभारी नागेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि एक माह पूर्व नीरज शर्मा पांचली को संगठन के पद से हटाया जा चुका है, जिसके बाद से वह भ्रामक और संगठन को बदनाम करने वाला कार्य कर रहे हैं.

गरीब मुस्लिम लडकियों का सामूहिक विवाह करवाएगी योगी सरकार, हर लड़की को मिलेगा 20 हजार रुपए

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache