मोदी से मिलीं महबूबा, कहा वाजपेयी की राह पर चलें



जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से आज मुलाकात की और जोर दिया कि घाटी में हालात को और ज्यादा बिगड़ने से रोकने के लिए बातचीत ही एकमात्र तरीका है। मोदी से मुलाकात के दौरान महबूबा ने कश्मीर पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की नीति का जिक्र किया और कहा कि सिरे को वहीं से पकड़ना चाहिए जहां पर वह छूटा था, यह स्पष्ट रूप से अलगाववादियों से बातचीत का सुझाव था।

महबूबा ने कहा, ‘‘आप कितने लंबे समय तक टकराव कर सकते हैं..बातचीत के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘बहरहाल बातचीत के लिए वातावरण तैयार किए जाने की जरूरत है।’’ प्रधानमंत्री के आवास में 20 मिनट चली बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने मोदी को घाटी के हालात खासतौर पर श्रीनगर लोकसभा क्षेत्र में नौ अप्रैल को उपचुनाव के बाद हिंसा की बढ़ती घटनाओं पर जानकारी दी। बैठक के दौरान कश्मीर में सुरक्षा स्थिति के तौर तरीके पर पीडीपी और भाजपा गठबंधन में आए तनाव पर भी चर्चा हुई।

पथराव की बढ़ती घटनाओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि वहां कुछ युवा हैं जिन्हें ‘भ्रमित’ किया गया। वहीं कुछ को व्हाट्सएप और फेसबुक के जरिए उकसाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा शुरू की गई बातचीत ही कश्मीर समस्या का एकमात्र हल है। उन्होंने सिंधु नदी जल समझौते का भी मुद्दा उठाया और कहा कि इससे राज्य को काफी नुकसान हो रहा है। महबूबा ने कहा कि इससे राज्य की भरपाई कैसे हो सकेगी यह देखने का मोदी ने उन्हें आश्वासन दिया है।

उन्होंने कहा कि पीडीपी और भाजपा के बीच आंतरिक मतभेद हैं लेकिन उन्हें हम आपस में मिल बैठकर हल कर लेंगे। महबूबा ने कहा कि पीडीपी अपना गठबंधन धर्म निभा रही है। राज्य में राज्यपाल शासन को लेकर पूछे गये सवाल पर उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर फैसला केंद्र सरकार को करना है।

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache