MCD चुनाव : आज आएंगे नतीजे, 35 केंद्रों पर होगी मतगणना

नई दिल्ली : दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनाव के नतीजे बुधवार को आएंगे. मतों की गिनती बुधवार सुबह आठ बजे शुरू होगी. एमसीडी में 272 सीटें हैं लेकिन दो जगहों पर उम्मीदवारों के निधन के चलते 270 सीटों पर चुनाव हुए थे. राजधानी दिल्ली के तीन नगर निगमों के लिए रविवार को वोट डाले गए. इस चुनाव में 270 सीटों पर 58.58 प्रतिशत मतदान हुआ.

राज्य निर्वाचन आयोग ने मतगणना की तैयारियां मुकम्मल कर ली हैं। चुनाव में प्रमुख दावेदार दल भाजपा, आप और कांग्रेस के बीच हुए त्रिकोणीय संघर्ष में हार जीत का फैसला मतगणना में हो जायेगा। राज्य निर्वाचन आयुक्त एसके श्रीवास्तव ने मतगणना की तैयारियां पूरी कर लिये जाने की जानकारी देते हुये बताया कि तय कार्ययोजना के मुताबिक मतगणना सुबह आठ बजे शुरू हो जायेगी। उन्होंने बताया कि सीलबंद ईवीएम मतगणना स्थलों पर पहुंचा दी गयी हैं। इसके लिये 35 मतगणना केन्द्र बनाये गये हैं। श्रीवास्तव ने कहा कि ‘हम मतगणना के लिये पूरी तरह तैयार हैं।’

परिणाम विपरीत आने पर केजरीवाल ने दी है आंदोलन की धमकी

हालांकि यह बात दीगर है कि केजरीवाल ने उपचुनाव परिणाम को निगम चुनाव का ‘ट्रेलर’मानने से इंकार कर दिया। साथ ही वह निगम चुनाव के एक्जिट पोल के परिणाम सही साबित होने पर ईवीएम के खिलाफ आंदोलन तक शुरू करने की चेतावनी भी दे चुके हैं। दिल्ली के 1.32 करोड़ मतदाताओं में से 7139994 ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। इसमें सर्वाधिक मतदान दक्षिणी दिल्ली में रहा। इस क्षेत्र के 2687685 मतदाताओं ने वोट डाला जबकि उत्तरी दिल्ली निगम में 2680011 और पूर्वी निगम में 1772298 मतदाताओं ने मतदान किया।

भाजपा, कांग्रेस और आप तीनों ने किया जीत का दावा

रविवार को 53.58 प्रतिशत मतदान हुआ था जो कि साल 2012 के चुनाव में हुये मतदान से थोड़ा ज्यादा रहा। चुनाव के तीनों प्रमुख दावेदार भाजपा, आप और कांग्रेस, अपने पक्ष में चुनाव परिणाम आने का दावा कर रहे हैं। इस बीच मतदान के बाद हुये एक्जिट पोल में चुनाव परिणाम में भाजपा को अप्रत्याशित जीत मिलने की संभावना जतायी गयी है।

जानकारों की राय में निगम चुनाव का परिणाम दिल्ली के सियासी भविष्य को तय करने वाला साबित होगा। एक तरफ दो साल पहले हुये विधानसभा चुनाव में 67 सीट जीतने वाली आप के लिये निगम चुनाव परिणाम पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल के जनाधार की मजबूती को तय करेगा, वहीं कांग्रेस और भाजपा के लिये चुनाव का परिणाम दिल्ली में खोई जमीन वापस पाने का पैमाना बनेगा। हालांकि मतदान से महज दस दिन पहले 13 अप्रैल को राजौरी गार्डन विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव परिणाम में आप की करारी हार केजरीवाल कैंप के लिये चिंता बढ़ाने वाली साबित हुई जबकि भाजपा अपनी जीत और कांग्रेस अपने मत प्रतिशत में 23 प्रतिशत इजाफे से काफी उत्साहित है।

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache