राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर पहल करे केंद्रः नीतीश

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री एवं जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने आज कहा कि राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार को लेकर सर्वानुमति बनाने के लिए केंद्र सरकार को पहल करनी चाहिए। मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद कक्ष में आज आयोजित लोक संवाद कार्यक्रम के बाद पत्रकारों ने नीतीश से आसन्न राष्ट्रपति चुनाव के बारे में पूछा। उन्होंने कहा कि सबसे पहले तो इस मामले में सत्ताधारी दलों को सर्वानुमति बनानी चाहिए, अगर वे ऐसा नहीं कर पाए तो विपक्ष का दायित्व बनता है कि वे आपस में बातचीत कर अपना उम्मीदवार खड़ा करे।

उन्होंने कहा कि पहले तो केंद्र सरकार का फर्ज बनता है कि वह पहल करे और अब तक के जो उदाहरण हैं, उनमें केंद्र में सत्ता में बैठे लोगों को पहल करनी चाहिए तथा सभी दलों से बातचीत करनी चाहिए। नीतीश ने कहा कि समस्त विपक्ष से बात कर अगर सर्वानुमति बनायी जाती है तो अच्छी परंपरा और उदाहरण होगा लेकिन अगर आप विपक्ष से किसी को पूछते नहीं हैं तो वे बैठे नहीं रहेंगे, बल्कि आपस में बातचीत कर उम्मीदवार तय करेंगे। उन्होंने कहा कि मेरी समझ से केंद्र को पहल करनी चाहिए और सर्वानुमति का प्रयास करना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है तो विपक्ष का कर्तव्य है कि वह अपना साझा उम्मीदवार खड़ा करे।
जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश की यह टिप्पणी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के विपक्ष को इस मामले में एकजुट करने के प्रयास के मद्देनजर महत्व रखती है, जबकि भाजपा नीत राजग देश के इस शीर्ष पद पर अपनी पसंद के उम्मीदवार के आसीन होने को आश्वस्त प्रतीत होता है। वर्तमान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को लेकर सर्वानुमति बनने की संभावना के बारे में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा कि इससे अच्छी बात क्या होगी, लेकिन इस बारे में केंद्र को निर्णय लेना होगा और पहल करनी होगी। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2012 के राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा नीत राजग का हिस्सा रही जदयू ने संप्रग उम्मीदवार मुखर्जी के पक्ष में मतदान किया था।

 

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache