अमरिंदर सिंह की पूर्ववर्ती सरकार ‘बेईमान और भ्रष्ट’: जेटली

जालंधर। पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की पूर्ववर्ती सरकार को ‘बेईमान और भ्रष्ट’ तथा बदले की भावना से काम करने वाली सरकार बताते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज यहां कहा कि यह किसी को बताने की जरूरत नहीं है कि किसकी नीतियों के कारण पंजाब में आतंकवाद का काला दौर आया था और किसकी नीतियों ने प्रदेश में विकास का काम किया है। जालंधर में चुनाव प्रचार के लिए विभिन्न चुनावी रैली को संबोधित करने आए केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा, ‘‘यह किसी को बताने की आवश्यकता नहीं है कि आतंकवाद के बाद शांतिकाल में पांच साल के दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह का शासन कैसा रहा है। यह सबको पता है कि 2002 से 2007 तक कैप्टन की सरकार सबसे बेईमान और भ्रष्ट सरकार थी।’’

जालंधर केंद्रीय विधानसभा क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार मनोरंजन कालिया के पक्ष में प्रचार के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए जेटली ने कहा, ‘‘प्रदेश में कैप्टन के शासनकाल में पांच साल तक केवल एक काम हुआ है और वह है विरोधियों से कैसे बदला लिया जाए। कैप्टन के शासन में केवल बदले की राजनीति हुई है।’’ रैली में तय समय से दो घंटे से अधिक की देरी से पहुंच जेटली ने यह भी कहा, ‘‘किसी इतिहासकार या संगठन से विश्लेषण कराया जाए तो यह पता चलेगा कि पंजाब में आतंकवाद का काला दौर किसकी नीतियों के कारण आया। पंजाब में कत्लेआम किसकी नीतियों के कारण हुआ और 1984 के दंगे किस पार्टी की हुकूमत के दौरान हुये। किनकी नीतियों के कारण प्रदेश 15 साल पीछे पहुंच गया।’’

अमृतसर में 2014 के आम चुनाव में कैप्टन से शिकस्त खा चुके जेटली ने कहा, ‘‘आतंकवाद के बाद शांतिकाल में 20 साल में से कैप्टन का पांच साल का शासन एकदम बेकार और भ्रष्ट था। उस दौरान सरकार और आवाम का कोई रिश्ता नहीं था। आम लोगों की बात छोड़िये नेता, विधायक और मंत्री तक कैप्टन साहब से नहीं मिल सकते थे।’’ जेटली ने जोर देकर कहा, ‘‘कैप्टन खुद भ्रष्टाचार में लिप्त रहे, स्विस बैंक में खाता खुलवाया और अब प्रदेश में कह रहे हैं कि वह भ्रष्टाचार को मुद्दा बना कर चुनाव लड़ रहे हैं। इसलिए यह आपको तय करना है कि यहां आपको भ्रष्ट सरकार चाहिए कि विकास करने वाली सरकार।’’

भाजपा नेता ने कहा, ‘‘पंजाब के विभाजन के बाद सूबे को जो जख्म मिला था, उससे प्रदेश को उबारने का काम शिअद भाजपा सरकार ने किया है और मौजूदा केंद्र सरकार ने भी इसमें सहयोग किया है। मैं आपको बताना चाहता हूं कि डॉ. साहब (मनमोहन सिंह) के अंतिम पांच साल के शासन के दौरान जितनी मदद राज्य को मिली उससे दोगुनी मदद मोदी साहब के पहले पांच साल के शासन में प्रदेश को मिलेगी। इसलिए आप सब केंद्र के हाथ मजबूत कीजिये और मनोरंजन कालिया को जिताईये।’’ इससे पहले भाजपा के संगठन मंत्री राम लाल ने कहा कि अगर राज्य में कांग्रेस की सरकार आ गयी, तो अशांति अस्थिता और भ्रष्टाचार का दौर फिर शुरू हो जाएगा। इसलिए प्रदेश को कांग्रेस मुक्त बनाये रखना चाहिए।

Leave a Reply