मोगली गर्ल को देखने के लिए उमड़ने लगी भीड़

काबू करने के लिए लगाए गए सिक्योरिटी गार्ड

बहराइच। भइया सरकारी अस्पताल यही है न? तो उ जंगल वाली लड़कियां कहां भर्ती है। ये आवाजें शुक्रवार सुबह से जिला अस्पताल में गूंज रही हैं। गूंजे भी क्यों न, क्योंकि अब बहराइच शहर ही नही पूरा उत्तर प्रदेश में ये चर्चाएं गूज रही है कि बहराइच के जिला अस्पताल में मोगली गर्ल भर्ती हूई है। जिसे देखने के लिए लोगो का तांता लगा हुआ है। अचानक दो दिनों से बहुचर्चित हुई जंगल से आई मोगली गर्ल को देखने के लिए जिला अस्पताल में लोगो का हुजूम उमड़ा हुआ है। जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में मोगली गर्ल की झलक पाने के लिए ऐसी भीड़ उमड़ी कि मरीज, तीमारदार और चिकित्सक सब बैचेन हो उठे।

Mogali Girl

महिलाओं और पुरुषों के साथ बच्चे भी मोगली गर्ल को देखने के लिए पहुंचे और उसकी एक-एक हरकत को इस तरह देखते रहे जैसे इंसानी बच्चे पहली बार देखने को मिले हों। आम बच्चों की तरह दिखने वाली ‘मोगली गर्ल’ इंसानी भीड़ को देखकर सहम उठती है। कौतूहल भरी नजरों से भीड़ को देखते हुए खुद को कंबल ओढ़ छुपाने की कोशिश करती है। प्यार, दुलार और पुचकार उस पर वो असर नहीं छोड़ पा रहे है जैसे हम आपके बच्चों के साथ घरों में देखने को मिलता है। लाख जतन के बाद भी खाना वो जंगली जानवरों की तरह ही बेड पर फैला कर खाती है। जुबां से कोई शब्द नहीं निकल पा रहे हैं।

लगाई गई सिक्योरिटी

जिला अस्पताल में मोगली को गर्ल को देखने के लिए मिनट टू मिनट बढ़ता जा रहा है। जिसको अब अस्पताल के कर्मचारी रोकने में नाकामयाब साबित हो रहे है। लगातार बढ़ रही भीड़ को देखते हुए सीएमएस डा0 डी0 के सिंह ने आइसोलेशन वार्ड के गेट पर एक सिक्योकिरटी गार्ड की डयूटी लगा दी गई है। जिसे वार्ड में भीड़ न हो सके और वहा भर्ती मरीजों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या न हो।
साहब एक झलक दिखाएं देव जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड के गेट को अब बंद कर दिया गया है। क्योकि मोगली को देखने के लिए भीड़ काफी एकत्रित हो चुकी थी। तभी भीड़ से तेज सुर में आवाज आती है कि वो साहब उ मोगली बिटिया कैय एक झलक दिखाए देव बहुत दूर से आएं है।

Leave a Reply