वक्फ बोर्ड का डिजिटीकरण 100 दिनों में: मोहसिन रजा

विद्या शंकर राय

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में आई भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार के एक महीने पूरे हो गए हैं। इस मौके पर सूबे के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार की नीति और नियत दोनों 30 दिन में ही साफ हो गई है और हम काम करने के इरादे से आए हैं और काम करेंगे। मोहसिन रजा ने विशेष बातचीत के दौरान शिया वक्फ बोर्ड, शुन्नी वक्फ बोर्ड और हज कमेटी पर भी विस्तार से बातचीत की।

मोहसिन ने कहा कि उप्र में पिछले एक महीने के दौरान हमने तीनों बोर्ड की कार्य संस्कृति को भांपने का प्रयास किया है। अल्पसंख्यक मंत्री ने कहा, मैं कह सकता हूं कि शिया वक्फ बोर्ड, सुन्नी वक्फ बोर्ड और हज कमेटी में भी पिछली सरकारों के दौरान भारी अनियमितताएं की गई हैं। दोषियों की पहचान की जा रही है। दोषियों को बक्शा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

तीनों बोर्ड में हुई अनियमितताओं की सीबीआई जांच कराने के सवाल पर मोहसिन ने कहा कि सभी तरह की गड़बड़ियों की जानकारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दे दी गई है। वह स्वयं ही इन मामलों को लेकर काफी गम्भीर हैं। इस दिशा में जल्द ही कोई कारगर कदम उठाया जाएगा। मोहसिन ने कहा कि अल्पसंख्यक विभाग की तरफ से जल्द ही एक सर्कुलर जारी किया जाएगा, जिसमें यह कहा जाएगा कि जिन-जिन लोगों के पास वक्फ बोर्ड से सम्बंधित शिकायतें हैं, वे उसे सरकार तक पहुंचाएं।

उन्होंने कहा, इन तीनों बोर्डो से सभी लोग परेशान हैं। कोई गाजीपुर से आ रहा है तो कोई गाजियाबाद से, लेकिन अब हम 100 दिनों के भीतर पूरे विभाग का डिजिटीकरण करने जा रहे हैं। इससे दूर से आने वालों को काफी फायदा मिलेगा। लोग अपनी बात जिला स्तर पर ही जिलाधिकारी के माध्यम से रख सकते हैं। रजा ने कहा, वक्फ सम्पत्तियों को लेकर लोगों की आपत्तियों के लिए जल्द ही एक हेल्पलाइन जारी किया जाएगा। लोग इस हेल्पलाइन के माध्यम से अपनी आपत्ति दर्ज करा सकते हैं। इससे विभाग के कामों में पारदर्शिता भी आएगी।

अल्पसंख्यक मंत्री ने कहा कि मदरसों में भी अब बच्चों को बेहतर शिक्षा मिलेगी। उन्होंने कहा, हम मदरसों को और बेहतर करने की दिशा में काम कर रहे हैं। इन मदरसों में बच्चों को धार्मिक शिक्षा तो मिल ही रही है, अब हमारा मुख्य फोकस इन मदरसों में स्मार्ट शिक्षा देने पर है।
उन्होंने कहा कि मुस्लिम परिवारों के बच्चों के लिए 100 दिनों के भीतर कई इंटरमीडिएट स्कूल भी खोले जाएंगे, जहां बच्चों को बेहतर शिक्षा मिलेगी और वह रोजगार लायक तैयार हो सकेंगे।

मोहसिन रजा ने कहा, योगी सरकार ने मुस्लिम बच्चियों के लिए एक नई पहल की है। अब सरकार राज्य के 49 जिलों में सद्भावना मंडप तैयार करेगी, जहां गरीब अल्पसंख्यक बच्चियों की सामूहिक शादियां सरकार अपने खर्चे पर कराएगी। हज यात्रा को लेकर उन्होंने कहा, “हाजियों की तरफ से हमेशा ही यात्रा के दौरान अव्यवस्था की शिकायतें आती रहती हैं। इस बार बेहतर से बेहतर व्यवस्था दी जाएगी। उसमें कोई कमी नहीं रह जाएगी।

उप्र में हज कोटा बढ़ाने को लेकर मोहसिन रजा ने कहा कि केंद्र सरकार के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आश्वासन दिया है कि यदि सरकार चाहेगी तो उप्र का हज कोटा भी बढ़ाया जाएगा, क्योंकि बड़ा प्रदेश होने के नाते यहां से हाजियों की संख्या भी ज्यादा रहती है। हज यात्रियों को आधार से लिंक करने को लेकर उन्होंने कहा कि जल्द ही हाजियों को भी आधार से जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा, हज यात्रियों को आधार से लिंक करने का मुख्य उद्देश्य यही है कि जो लोग सरकार की ओर से मिल रही सब्सिडी का लाभ एक बार ले लेते हैं, उन्हें दोबारा यह लाभ न दिया जाए। अल्पसंख्यक समाज में और भी बुजुर्ग हैं, जो हज यात्रा पर जाना चाहते हैं लेकिन वे जा नहीं पाते हैं। ऐसा होने से एक व्यक्ति केवल एक ही बार सरकार की सब्सिडी पर हज यात्रा पर जा सकता है।

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache