जमात उद दावा के बयान में गड़बड़ी से मास्टरमाइंड हाफिज सकते में



लाहौर। मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के संगठन जमात उद दावा ने अपने सरगना के लिए बड़ी शर्मिंदगी की स्थिति पैदा कर दी जब उसने सईद के हवाले से बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तान में आतंकवाद का षड्यंत्र रचने में चीन और रूस की भूमिका है। सईद ने रविवार को जेयूडी मुख्यालय पर संवाददाताओं से कहा, ‘‘पाकिस्तान को अपने वहां आतंकवाद को अंजाम देने से भारत को रोकने के लिये चीन, रूस और दूसरे देशों पर दवाब बनाना चाहिये।’’

बहरहाल, बैठक के बाद जेयूडी ने सईद के हवाले से एक बयान जारी कर कहा, ‘‘पाकिस्तानी सरकार को चीन, रूस और दूसरे देशों द्वारा यहां अंजाम दिए जा रहे आतंकवाद को रोकने के लिए भारत पर दबाव बढ़ाना चाहिए।’’ बाद में जेयूडी अधिकारी अहमद नदीम ने कहा कि बयान में गलती से चीन का उल्लेख पाकिस्तान में आतंकवाद के संदर्भ में कर दिया गया। नदीम ने कहा, ‘‘हाफिज ने कहा कि पाकिस्तानी सरकार को चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपेक) को कश्मीर की आजादी से जोड़ना चाहिए और पाकिस्तान में आतंकवाद पैदा करने से भारत को रोकने के लिये चीन एवं रूस तथा सीपेक में शामिल अन्य देशों पर दवाब बनाना चाहिये।’’

एक अन्य मांग में सईद ने कहा कि प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी कैबिनेट के सदस्यों को कश्मीर संबंधी प्रस्तावों के क्रियान्वयन की मांग को लेकर संयुक्त राष्ट्र के कार्यालय के बाहर प्रदर्शन धरना देना चाहिए।

Leave a Reply

1 Trackback

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache