यमन में कार्रवाई की आलोचना कमांडो का अपमान: अमेरिका



वाशिंगटन। व्हाइट हाउस ने कहा कि यमन में अमेरिका के विशेष बलों के हवाई हमलों की कोई भी आलोचना करना जान कुर्बान करने वाले नेवी सील के कमांडो की स्मृति का अपमान है। व्हाइट हाउस के प्रवक्ता सीन स्पाइसर ने यमन में गत माह किये गये हवाई हमलों का कल बचाव किया। इन हमलों में अल कायदा के करीब 14 संदिग्ध आतंकवादी मारे गये थे। हमले के दौरान नेवी सील के कमांडो विलियम ओवेन्स के अलावा बच्चों समेत कई आम नागरिकों की भी मौत हो गयी थी।

अमेरिकी नौसेना की समुद्र, आकाश और जमीन तीनों जगह अभियान में प्रशिक्षित टीम को नेवी सील कहा जाता है। ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद इस पहली बड़ी कार्रवाई ने यमन को वाशिंगटन के साथ सहयोग पर फिर से सोचने के लिए मजबूर कर दिया है। यमन में ये हवाई हमले 29 जनवरी को किये गये थे। स्पाइसर ने कहा, ‘‘यह निश्चित रूप से एक सफलता है और अगर कोई यह कहता है कि ऐसा नहीं है तो यह ओवेन्स का अपमान होगा।’’

ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी के सांसद जॉन मैक्केन ने इस कार्रवाई को ‘‘विफल’’ बताया। जबकि स्पाइसर ने कहा, ‘‘यमन में की गयी कार्रवाई एक बड़ी सफलता है। इसकी वजह से अमेरिकियों की जिन्दगी बच जाएगी––भविष्य में होने वाले हमलों को रोका जा सकेगा।’’ उन्होंने यमन के अमेरिका को जमीनी अभियान से रोकने की खबरों के बारे में सवालों को टाल दिया। उन्होंने कहा, ‘‘हम आईएसआईएस से लड़ने के लिए उनके साथ काम करना जारी रखेंगे।’’

Leave a Reply

1 Trackback

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache