विकास कोई भी करे उसकी सराहना होनी चाहिए: राजनाथ

लखनऊ। केंद्रीय गृहमंत्री व लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा कि विकास पर विवाद नहीं होना चाहिए, विकास कोई भी सरकार करे सराहना होनी चाहिए। इस दौरान रेल मंत्री सुरेश प्रभु भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि उप्र सरकार मेट्रो में केंद्र के साथ काम कर रही, जिसकी सरकार बनेगी वो विकास करेगा। रेल मंत्री सुरेश प्रभु में काम करने की अद्भुत क्षमता है।

राजनाथ ने कहा कि रेलवे के बारे में उनकी कल्पनाशक्ति काफी अच्छी है। उनके साथ काम करने का पहले भी बेहतरीन अनुभव रहा है।
गृहमंत्री ने कहा कि मेट्रो को लेकर लोग चर्चा बंद करें, विकास कार्यो को लेकर विवाद नहीं होना चाहिए। मेट्रो रेल में भारत सरकार सहयोग कर रही है।
ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर भाजपा ने आरोप लगाया था कि लखनऊ मेट्रो में केंद्र की ओर से पैसा दिए जाने के बावजूद उद्घाटन के मौके पर उन्होंने स्थानीय सांसद को निमंत्रण नहीं दिया था।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के संसदीय क्षेत्र लखनऊ को करोड़ों की सौगात देने वाले रेल मंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने मोदी सरकार की प्राथमिकता का मॉडल भी सभी के सामने रख दिया।

इससे पहले लखनऊ में कई योजनाओं का लोकार्पण तथा उद्घाटन करने के दौरान प्रभु ने कहा कि देश के सबसे बड़े राज्य में केंद्र सरकार करीब 45 हजार करोड़ रुपये पर खर्च करेगी।

गोमतीनगर रेलवे स्टेशन के परिसर में सुरेश प्रभु ने कहा कि हम राजनीति से हटकर रेल की जरूरतों पर ध्यान दे रहे हैं। जिस तरह का मॉडल इस स्टेशन गोमतीनगर रेलवे टर्मिनल का है, उस तरह का पहले देखने को नहीं मिला। हम स्टेशन के बारे में सुनते थे कि वहां गंदगी होगी, लेकिन यह इससे अलग होगा।

इस मौके पर प्रभु ने कहा कि लोगों की जरूरत के हिसाब से आज के सभी कामों का शिलान्यास किया गया है।

सुरेश प्रभु ने कहा कि रेल जनता के लिए यातायात का महत्वपूर्ण साधन है। काफी समय से रेल में निवेश नहीं किया गया। ट्रेनों में यात्रियों की संख्या में इजाफा हुआ है। अब खान पान सेवाओं में सुधार करने की जरूरत है। मोदी सरकार रेल में काफी ज्यादा निवेश कर रही है।

प्रभु ने कहा कि गोमतीनगर स्टेशन पर 200 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च होगा। हम राज्यों के साथ मिलकर काम करेंगे। देश के 16 राज्य रेल के साथ मिलकर काम करेंगे। उत्तर प्रदेश के साथ हम ज्वाइंट वेंचर पर काम करेंगे। रेलवे आपकी शिकायतों को गंभीरता से लेता है। रेलवे सेफ्टी फंड बनाने में जुटा है।

उन्होंने कहा, “उत्तर प्रदेश में हम और बड़ी योजना लेकर आएंगे। रेलवे में अभी तक मोदी सरकार ने 43453 करोड़ रुपये का काम किया है। अभी तक दोहरीकरण, नई लाइन, विद्युतीकरण पर काम किया गया। हमने उप्र को 41 नई ट्रेनों की सौगात दी।“

रेल मंत्री सुरेश मंत्री प्रभु ने शुक्रवार को यहां के लोगों को एक साथ कई योजनाओं का तोहफा दिया। इस मौके पर प्रभु ने कहा कि लोगों की जरूरत के हिसाब से सौगात दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद उप्र को 41 नई रेलगाड़ियों की सौगात दी गई है। रेलमंत्री ने शुक्रवार को राजधानी लखनऊ में कई परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इस मौके पर केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर और रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा भी मौजूद रहे।
रेलमंत्री ने गोमतीनगर स्टेशन से कई योजनाओं का शिलान्यास किया। इसमें गोमतीनगर स्टेशन की नई इमारत का शिलान्यास भी शामिल था। गोमतीनगर स्टेशन को 108 करोड़ रुपये से संवारा जाएगा। यहां पर स्टेशन के ऊपर मॉल और मल्टीप्लेक्स के साथ विश्रामालय बनाया जाएगा।
इसके अतिरिक्त पिपराघाट के नए पुल का उद्घाटन, 108 करोड़ रुपये के गोमतीनगर टर्मिनल की आधारशिला, गोमतीनगर स्टेशन पर छह प्लेटफॉर्म की आधारशिला रखी गई।
रेल मंत्री प्रभु ने गोमतीनगर स्टेशन पर वाशिंग पिट का लोकार्पण, चारबाग में पांच नई लिट व चार स्केलेटर का उद्घाटन किया। लखनऊ जंक्शन पर बने दो एस्केलेटर, एक महिला व एक सामान्य प्रतीक्षालय तथा एक महिला व सामान्य विश्रामालय का उद्घाटन किया।
सुरेश प्रभु ने कहा, “रेल जनता के लिए यातायात का महत्वपूर्ण साधन है। काफी समय से रेल में निवेश नहीं किया गया। ट्रेनों में यात्रियों की संख्या में इजाफा हुआ है। खान-पान सेवाओं में सुधार करने की जरूरत है। मोदी सरकार रेल में काफी ज्यादा निवेश कर रही है।“
रेल मंत्री ने कहा, “गोमतीनगर स्टेशन पर 200 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च होगा। राज्यों के साथ मिलकर काम करेंगे। देश के 16 राज्यों के साथ मिलकर काम किया जाएगा। रेलवे आप की शिकायतों को गम्भीरता से लेता है। रेलवे सेटी फंड बनाने में जुटा है।“
उन्होंने कहा, “उप्र में हम और बड़ी योजना लेकर आएंगे। रेलवे में 43453 करोड़ रुपये का काम मोदी सरकार ने किया। दोहरीकरण, नई लाइन, विद्युतीकरण पर काम किया गया है साथ ही उप्र को 41 नई ट्रेनों की सौगात दी गई है। उप्र को हमसफर, तेजस, अंत्योदय एक्सप्रेस दिया गया।“

Leave a Reply