ATS ने दो संदिग्ध पकड़े, पूछताछ के लिए लखनऊ लाये गये

कानपुर। कानपुर शहर और पड़ोसी जिले उन्नाव से पकड़े गये दो संदिग्धों को पूछताछ के लिये यूपी एटीएस की टीम आज सुबह यहां से लखनऊ ले गयी। इन दोनों के परिजन से भी एटीएस ने पूछताछ की और इस दौरान अन्य संदिग्धों की तलाश में पुलिस का अभियान आज दूसरे दिन भी जारी रहा। पुलिस ने यह जानकारी दी। कानपुर के एसपी सिटी सोमेन वर्मा ने बताया कि मध्य प्रदेश के शाजापुर में ट्रेन विस्फोट के बाद यूपी एटीएस की एक टीम ने जाजमउ की जेके कालोनी से फैसल उर्फ फैजान को हिरासत में लिया था। पड़ोसी जिले उन्नाव की एक लैदर फैक्ट्री से उसके भाई इमरान को पकड़ा गया।

उन्होंने बताया कि एटीएस की टीम ने शहर के बेकनगंज इलाके की रहमानी मार्केट से शकील उर्फ अजगर को भी पकड़ा था लेकिन मार्केट के दुकानदारों के विरोध प्रदर्शन करने के कारण मौका पाकर शकील भाग गया। पुलिस की टीमें शकील की तलाशी में जगह जगह छापेमारी कर रही हैं। और यह छापेमारी मंगलवार रात भर जारी रही और आज भी जारी है। वर्मा ने बताया कि यूपी एटीएस की टीम आज सुबह करीब तीन बजे कानपुर और उन्नाव से पकड़े गये दोनों संदिग्धों को लेकर लखनऊ रवाना हो गयी। उन्होंने बताया कि एटीएस की टीमें कानपुर में कुछ और संदिग्धों की तलाश में हैं। हालांकि उन्होंने यह बताने से इंकार कर दिया कि इनका मध्य प्रदेश की घटना से संबंध है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि इन दोनों सगे भाइयों के अन्य परिजन से भी एटीएस की टीम पूछताछ कर रही है। उधर कानपुर पुलिस के आईजी जोन जकी अहमद ने बताया कि इन दोनों संदिग्धों के पकड़े जाने के बाद कानपुर के रेलवे स्टेशन, बस अड्डे, मॉल, मल्टी प्लेक्स, भीड़ भरे बाजारों की सघन जांच के आदेश पुलिस को दिये गये हैं।

Leave a Reply