सिंधु ने चाइना ओपन जीत रचा इतिहास, पीएम मोदी ने भी दी बधाई



नई दिल्ली। रियो ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीत देश का मान बढ़ाने वाली बैडमिंटन सनसनी पीवी सिंधु ने बड़ा कमाल कर दिया। सिंधु ने चाइना ओपन के फाइनल में चीन की सुन यू को हराकर खिताब अपने नाम किया। तीन गेम तक चले मुकाबले में जीत के झंडे गाड़ सिंधु पहला सुपर सीरीज खिताब अपने नाम किया। सिंधु ने सुन यू को 21-11, 17-21 और 21-11 से हराया।

इस फाइनल मुकाबले का पहला गेम पीवी सिंधु आसानी से जीत गई। उन्होंने आठवीं वरीय चीन की सुन यू को 17 मिनट में ही 21-11 से गेम जीत लिया। दूसरे गेम में सिंधु को कड़ी टक्कर मिली। यू ने वापसी की। 17-21 से दूसरा गेम अपने नाम कर लिया। लेकिन तीसरे और निर्णायक गेम में सिंधु ने एक बार फिर लय पकड़ ली और सुन यू को एक बार फिर 21-11 से धूल चटा दी।

ओलिंपिक के बाद ये सिंधु का दूसरे टूर्नामेंट था। आपको बता दें कि चाइना ओपन में अब तक 25 में से 23 बार चीनी खिलाड़ियों ने ही खिताब पर कब्जा किया था। सिंधु से पहले अब तक भारत की साइना नेहवाल और मलेशिया की मी चुंग वॉन्ग ही ऐसी गैर-चीनी खिलाड़ी रही हैं, जिन्होंने यह खिताब जीता था। साथ ही चाइना ओपन के फाइनल में लगातार तीसरी बार फाइनल में पहुंचने वाली भारतीय शटलर भी बनी।

सबसे पहले 2014 में साइना नेहवाल ने यह टूर्नामेंट जीता था। 2015 में साइना फाइलन हारकर रनर अप रहीं थीं। अब 2016 में पीवी सिंधु ने चाइना ओपन जीत इतिहास रचा और दूसरी भारतीय खिलाड़ी, तीसरी गैर चीनी खिलाड़ी बनी।

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache