द्रविड़ का खुलासा: धोनी के कप्तानी छोड़ने से विराट को मिलेगा ये बड़ा फायदा



नई दिल्ली। भारत के पूर्व कप्तान और ए टीम के मौजूदा कोच राहुल द्रविड़ का मानना है कि यदि महेंद्र सिंह धोनी 2019 विश्व कप की टीम में खुद को नहीं देखते तो कप्तानी छोड़ने की उनकी टाइमिंग सही थी। द्रविड़ ने कहा कि धोनी का फैसला ज्यादा हैरानी भरा नहीं है। उन्हें पता था कि यह होना ही है। ऐसी अटकलें थी कि वह चैपिंयंस ट्रॉफी तक पद पर रहेगा, लेकिन उससे पहले सिर्फ एक वनडे सीरीज थी।

वर्ल्ड कप के लिए मनचाही टीम चुन सकेंगे विराट

उन्होंने से कहा कि उसके नजरिए से देखें तो अगर वह खुद को अगले वर्ल्ड कप की टीम में नहीं देखता तो उसकी टाइमिंग सही है। विराट कोहली को बागडोर सौंपने का यह सही समय है ताकि उन्हें अगले वर्ल्ड कप के लिए अपनी मनचाही टीम तैयार करने का समय मिल जाए। उन्होंने कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि एमएस धोनी जैसा अनुभवी और सक्षम क्रिकेटर जब फॉर्म में है तो टीम के लिए अनमोल है। उनके पास अपार अनुभव और क्षमता है, खासकर दबाव के क्षणों में। यह आसानी से नहीं मिलता।

धोनी की फॉर्म टीम के लिए बेहद जरूरी

उन्होंने कहा कि सवाल यही है कि आपको टीम में अपनी जगह बनानी पड़ती है और प्रदर्शन के दम पर। यदि वह फॉर्म में है और अच्छा खेल रहा है तो धोनी जैसा खिलाड़ी भारत के लिए अनमोल है, खासकर तब जबकि बड़े टूर्नामेंट आ रहे हैं। द्रविड़ ने कहा कि बड़े टूर्नामेंटों से पहले धोनी का फार्म एक मसला होगा। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि यह भी उसके अपने प्रदर्शन और क्षमता पर निर्भर होगा। यह उसी पर तय होगा कि वह कैसा प्रदर्शन करता है। टीम में उसकी जगह विशुद्ध रूप से विकेटकीपिंग और बल्लेबाजी पर निर्भर होगी।

धोनी को इसलिए रखा जाएगा याद

उन्होंने कहा कि कोहली दुआ करेगा कि धोनी अच्छा प्रदर्शन करें और टीम में रहे। इस तरह के अनुभव और क्रिकेट के ज्ञान की टीम को जरूरत है। द्रविड़ ने कहा कि इतिहास उन्हें भारत के सफल कप्तान के रूप में याद रखेगा। उन्होंने कहा कि इतिहास उन्हें भारत के सबसे सफल कप्तान के तौर पर याद रखेगा। एक ऐसा कप्तान जो अपने दौर में टीम और खेल को काफी आगे ले गया।

Leave a Reply

TEVAR TIMES is Stephen Fry proof thanks to caching by WP Super Cache