लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जनता को भाजपा और बसपा से होशियार रहने की सलाह देते हुए आज कहा कि बसपा ने कीमती जमीनों पर कब्जा करके मूर्तियां लगवा लीं वहीं, भाजपा अब चुनाव को साम्प्रदायिक एजेंडे की तरफ ले जा रही है। मुख्यमंत्री ने धनतेरस के मौके पर प्रदेश के सभी सरकारी स्कूलों के बच्चों को एक थाली और गिलास के वितरण अवसर पर कहा ‘‘भाजपा के लोग चुनाव प्रचार के दौरान क्या कह देंगे, कुछ नहीं पता..इसलिये भाजपाइयों से बचकर रहना।’’

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दशहरे के दिन लखनऊ में और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा गुरुवार को इटावा में अपने भाषण के दौरान ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाये जाने की तरफ इशारा करते हुए अखिलेश ने कहा ‘‘याद रखना, ये वही लोग हैं जो पहले दूसरा नारा देते थे। पहले उनका भाषण भारत माता की जय पर खत्म होता था, अब किस बात पर खत्म हो रहा है… इसलिये होशियार रहिये।’’ भाजपा को विकास के मामले में केन्द्र की अपनी सरकार तथा उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी सरकार के बीच तुलना करने की चुनौती देते हुए उन्होंने कहा ‘‘हम भाजपा के लोगों से पूछना चाहते हैं कि आपने लखनऊ में कौन सा बड़ा काम किया है। अगर आप काम में तुलना करेंगे तो समाजवादियों की तुलना नहीं की जा सकती।’’

मुख्मयंत्री ने कहा कि भाजपा के लोग ऐसे शब्द ढूंढकर लाते हैं जो आसानी से समझ नहीं आते। खुद उन्होंने गूगल पर देखा तो पता लगा कि सर्जिकल स्ट्राइक क्या है। ‘‘अखबारों में देखा तो पाया कि हमने भी सर्जिकल स्ट्राइक कर दी है। तब ठीक से जाना कि सर्जिकल स्ट्राइक क्या है।’’

उन्होंने कहा ‘‘हालांकि हम उन्हें (मायावती को) अच्छे शब्द से बुलाते हैं। वह इससे नाराज भी होती हैं लेकिन आज धनतेरस है, इसलिये फिर से अच्छे शब्द में कहेंगे कि हमारी बुआजी ने अपने जीते-जी अपनी मूर्तियां लगवा लीं और स्मारकों पर ऐसे हाथी लगवाये जो बैठे थे, वे बैठे ही रहे और जो खड़े थे वे अब भी खड़े ही हैं।’’ मुख्यमंत्री ने उम्मीद जतायी कि जनता अगले विधानसभा चुनाव में एक बार फिर सपा पर भरोसा करेगी और प्रदेश में दोबारा उनकी सरकार बनेगी। समाजवादियों ने विकास में संतुलन बनाया है। शहर के साथ-साथ गांवों का भी विकास किया है।

अखिलेश ने छात्र-छात्राओं को बांटे थाली-गिलास

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को लखनऊ से सटे मोहनलालगंज क्षेत्र के उच्च प्राथमिक विद्यालय धनुवासांड में छात्र-छात्राओं को थाली एवं गिलास वितरित करने के साथ ही बिना नाम लिए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर निशाना साधा। सीएम ने कहा, ‘पिछली सरकार ने सिर्फ पत्थरों के स्मारक बनवाकर प्रदेश के विकास को ठप कर दिया। जबकि समाजवादी सरकार की योजनाओं से उप्र विकास के पथ पर तेजी से आगे बढ़ा है।  मुख्यमंत्री ने कहा, ‘योजना के अन्तर्गत एक करोड़ स्टेनलेस स्टील की थालियां तथा इतने ही गिलास विद्यार्थियों में वितरित किए जाएंगे। इसक लिए बजट में 114 करोड़ रुपये का प्राविधान किया गया है। इस साल दिसम्बर तक प्रदेश के सभी 75 जनपदों में इनका वितरण पूरा कर लिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यान्ह भोजन योजना के अन्तर्गत उपलब्ध कराए जा रहे भोजन को बच्चे ठीक से खा सकें यह सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा उन्हें थाली एवं गिलास उपलब्ध कराए जाने का निर्णय लिया गया। उन्होंने कहा कि किसी भी देश, प्रदेश अथवा समाज की प्रगति में शिक्षा की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसलिए राज्य सरकार ने प्राथमिक शिक्षा पर विशेष बल दिया है। उन्होंने शुरुआती शिक्षा की गुणवत्ता पर बल देते हुए कहा कि इसका ठीक होना बहुत जरूरी है।  भविष्य में भी राज्य सरकार प्राथमिक शिक्षा को और बेहतर बनाने के सारे प्रयास करेगी। उन्होंने कहा कि प्राथमिक शिक्षा के पाठ्यक्रम को बेहतर बनाया जाएगा और अंग्रेजी मीडियम के स्कूलों तथा सरकारी स्कूलों के पाठ्यक्रमों के बीच के गैप को खत्म किया जाएगा। बच्चों को निःशुल्क पाठ्य पुस्तकें भी उपलब्ध करायी जाएंगी।

अखिलेश ने कहा कि प्रदेश सरकार ने समाजवादी पेंशन योजना लागू की है। जिसके माध्यम से आज 55 लाख गरीब परिवारों को पेंशन के रूप में 500 रुपये की राशि प्रतिमाह उपलब्ध करायी जा रही है। इसके अलावा, ‘108’ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा तथा ‘102’ नेशनल एम्बुलेन्स सर्विस जैसी योजनाआंे का भरपूर लाभ प्रदेश की जनता को मिल रहा है। आज एक फोन कॉल पर एम्बुलेन्स मरीज को लेने के लिए घर के दरवाजे पर पहुंच रही है। उन्होंने कहा कि 18 लाख विद्यार्थियों को राज्य सरकार द्वारा निःशुल्क लैपटॉप उपलब्ध कराए गए हैं। लैपटॉप के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के विद्यार्थियों के मन से तकनीकी के प्रति व्याप्त भय और संकोच को दूर करने में बड़ी सफलता मिली है। अब इन लैपटॉपों के जरिए छात्र-छात्राएं अपने सपनों की उड़ान भर रहे हैं। राज्य सरकार ने समाज के हर वर्ग के लिए काम किया है, जबकि पिछली सरकार ने सिर्फ पत्थरों के स्मारक ही बनवाए और प्रदेश के विकास को ठप कर दिया। उन्होंने कहा कि नेताजी द्वारा चलायी गई किसान दुर्घटना बीमा योजना को वर्तमान समाजवादी सरकार ने आगे बढ़ाया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश के विकास के लिए कई योजनाएं लागू कीं, जिनमें आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, लखनऊ मेट्रो रेल, सीजी सिटी, आईटी सिटी आदि शामिल हैं। जिला मुख्यालयों को 4-लेन की सड़कों से जोड़ा गया है। इसके अलावा, पूरे प्रदेश में बड़ी संख्या में सेतुओं, आरओबी, फ्लाईओवरों तथा पुलियों इत्यादि का निर्माण करवाया गया है। साथ ही, बिजली व्यवस्था भी चुस्त-दुरुस्त की गई है। भविष्य में प्रदेश के विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा ब्लूप्रिण्ट तैयार किया जा रहा है, ताकि उसे शीघ्र लागू किया जा सके। इस अवसर पर मुख्यमंत्री को तलवार, पगड़ी तथा चित्र भी भेंट किए गए। कार्यक्रम में राजेन्द्र चैधरी, वसीम अहमद, शारदा प्रताप शुक्ला, राम गोविन्द चैधरी शामिल रहे।