नई दिल्ली। निजी क्षेत्र के प्रमुख बैंकों में से एक (ICICI Bank) ने दूसरी तिमाही (July to September) के दौरान 1,082 लोगों की छटनी की है।

ICICI Bank employs 1,082 people in second quarter
                               ICICI Bank employs 1,082 people in second quarter

ताजा आंकड़े के मुताबिक 30 सितंबर तक बैंक में करीब 83,058 कर्मचारी काम कर रहे थे। जून 2017 में यह आंकड़ा 84,140 का था। इस तिमाही के दौरान बैंक के कर्मचारियों की लागत 1,514 करोड़ रुपए पर अपरिवर्तित रही है।

ऐसे समय में जब इंडियन बैंकिंग सेक्टर एक ऐसा उद्योग बन गया है जहां रोबोट्स, चैटबॉट्स, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और अन्य तकनीकें इस सेक्टर में रोजगार के संकट पैदा कर रही हैं।

इसके साथ ही बकाया ऋण की गुणवत्ता के कारण बैंकों की बैलेंस सीट पर बढ़ रहे दबाव और अधिक पूंजी प्रावधान आवश्यकताएं सीधे-सीधे बैंकों की लागत को प्रभावित कर रही हैं।

वहीं दूसरी तरफ निजी क्षेत्र के एक अन्य प्रमुख बैंक एचडीएफसी बैंक ने 2,700 लोगों को और एक्सिस बैंक जो कि निजी क्षेत्र का तीसरा सबसे बड़ा बैंक माना जाता है ने जुलाई से सितंबर के दौरान 2,270 लोगों के नौकरी दी है।

हालांकि एचडीएफसी बैंक ने बीते साल अपने कर्मचारियों की संख्या को तर्कसंगत बनाया था। उसने जून 2017 को अपने कर्मचारियों की संख्या को घटाकर 83,750 कर दिया था, जबकि बीते साल सिंतबर के अंत तक उसके कर्मचारियों की संख्या 95,002 रही थी।

बीती दो तिमाहियों के दौरान (अप्रैल से सितंबर तक), आईसीआईसीआई बैंक ने पहली तिमाही में 1,300 कर्मचारियों को नौकरी दी थी। 30 जून 2017 तक इसके कर्मचारियों की संख्या 84,140 थी। हालांकि दूसरी तिमाही के दौरान इसमें कमी देखने को मिली है।