फतेहपुर। उत्तर प्रदेश में योगी की सरकार बनते ही अपराधो का ग्राफ दिन-पर-दिन बढता चला जा रहा है।

In a minor dispute uncle murder the nephew shot dead
In a minor dispute uncle murder the nephew shot dead

अपराधी बेखौफ होकर अपराध को अन्जाम देकर सरकार को चुनौती दे रहे है। हर दिन (Murder) हत्याये, लूट, बलात्कार की घटनायें आम हो गयी हैं लेकिन पुलिस प्रशासन अंकुश लगाने में पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है।

इसी क्रम में थाना चाॅदपुर कस्बा में नाली के विवाद को लेकर रविवार को दिन दहाडे चाचा ने अपनी डबल बैरल बन्दूक से भतीजे को गोली मारकर मौत (Murder) के घाट उतारने के बाद लगभग एक घण्टे तक हवाई फायरिंग करने के बाद स्वंय थाने जाकर आत्म समर्पण कर लिया।

इससे पूर्व दबंग ने मृतक की पत्नी, जेठानी व बच्चो को भी मारने की कोशिश की। दबंग द्वारा किये जा रहे ताण्डव से कस्बे में हडकंप मच गया वही लोग अपनी जान बचाकर घर के अन्दर घुस दरवाजा बन्द कर लिया। हादसे के बाद Murder की सूचना पाकर पुलिस अधीक्षक श्रीपर्णा गांगुली मौके पर पहुंच गयी और घटना से सम्बन्धित जानकारी लिया।

जानकारी के अनुसार चाॅदपुर कस्बा निवासी शिव बालक भदौरिया का गांव के ही प्रेम लाल सिंह पुत्र राम बहादुर सिंह (35) से पिछले काफी समय से नाली को लेकर विवाद चला आ रहा है। बताते है कि आज नाली को लेकर चाचा-भतीजे के बीच कहा सुनी हो गयी जिस पर क्रोध में आकर चाचा शिव बालक सिंह भदौरिया घर पहुचा और अपनी डबल बैरल बन्दूक निकालकर बाहर आते ही अपने भतीजे पर फायर झोक दिया जिससे भतीजे की मौके पर ही मौत हो गयी।

यही नही हत्यारे ने उसकी पत्नी जीतू पुत्री पल्लवी व पुत्र पियूष तथा मृतक की भाभी चन्द्रकली पत्नी राम विशाल को भी जान से मारने की कोशिश की। लेकिन सभी ने पडोस के घर में घुसकर अपनी जान बचायी। दिन दहाडे हुयी हत्या से पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी।

घटना के अन्जाम देने के बाद हत्यारा एक घण्टे तक ताडंव करता रहा और हवाई फायरिंग झोकता रहा। दबंग द्वारा लगातार की जा रही फायरिंग से लोग दहशत में आ गये और अपने-अपने घरो में दुबक गये। दिन दहाडे हुयी Murder और एक घण्टे तक हत्यारे द्वारा किये जा रहे ताडंव की जानकारी पुलिस को नही लग पायी।

आखिरकार हत्यारे ने मय असलाहे के थाना पहुचा और अपना जुर्म कबूल कर लिया तब पुलिस हरकत मे आयी। हत्यारे को हिराशत में लेने के बाद थानाध्यक्ष मय फोर्स में मौके पर पहुचे।

वही घटना की सूचना पाकर पुलिस अधीक्षक श्रीपर्णा गागंली भी मौके पर पहुच गयी और जानकारी ली। उधर पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर विच्छेदन गृह भेज दिया।