अस्ताना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अस्ताना में आयोजित शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन से इतर आज Chinese President शी चिनफिंग से मुलाकात की। दोनों देशों के बीच चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे और परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में भारत की सदस्यता के मुद्दे पर बढ़ते मतभेदों के दौरान हुई इस मुलाकात को संबंध सुधारने के प्रयास के तौर पर देखा जा रहा है। दोनों नेताओं के बीच की यह मुलाकात इस लिहाज से अहम है कि यह इन दोनों के बीच की इस साल की पहली मुलाकात है और यह भारत द्वारा बेल्ट एंड रोड फोरम का बहिष्कार किए जाने के बाद हुई है।

पिछले माह बीजिंग में आयोजित इस फोरम का भारत ने बहिष्कार किया था। इसमें विश्व के 29 नेताओं ने हिस्सा लिया था। बेल्ट एंड रोड पहल के तहत बनने वाले 50 अरब डॉलर के चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे से जुड़ी अपनी चिंताओं को रेखांकित करने के लिए भारत इस सम्मेलन में नहीं गया। यह गलियारा पाक अधिकृत कश्मीर में गिलगित और बाल्टिस्तान से होकर गुजरता है। प्रधानमंत्री मोदी और शी यहां शंघाई सहयोग संगठन के वार्षिक शिखर सम्मेलन में शिरकत करने पहुंचे हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बाग्ले ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अस्ताना में एससीओ सम्मेलन से पहले चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मुलाकात की।’’