पेरिस। स्विट्जरलैंड के दिग्गज रोजर फेडरर की पेरिस मास्टर्स टूर्नामेंट से नाम वापसी की चर्चा चारों तरफ हो रही है एक ओर पेरिस मास्टर्स टूर्नामेंट के निदेशक गे फोरगेट ने भी फेडरर के इस निर्णय से नाखुशी जाहिर की है।

Nadal told why Federer took the name back from the Paris Masters
                                   Nadal told why Federer took the name back from the Paris Masters

वहीं स्पेन के स्टार टेनिस खिलाड़ी राफेल नडाल ने कहा है कि फेडरर ने लंदन में होने वाले एटीपी फाइनल्स में बेहतरीन प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए पेरिस मास्टर्स से अपना नाम वापस ले लिया।

नडाल ने कहा, शंघाई और बासेल में खिताबी जीत हासिल करने के बाद फेडरर का मानना है कि पेरिस मास्टर्स में शामिल न होने से वह अपनी फॉर्म को बेहतर कर पाएंगे और लंदन में एटीपी फाइनल्स के लिए पूरी तरह से तैयार हो जाएंगे। अपने करियर में अब तक 19 ग्रैंड स्लैम खिताब जीत चुके फेडरर ने रविवार को अपने करियर के आठवें स्विस इंडोर्स टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया।

फेडरर के नाम वापस लेने से नडाल के लिए पेरिस मास्टर्स जीतने का रास्ता साफ हो गया है। ऐसे में वह अपने करियर का पहला पेरिस मास्टर्स खिताब जीत लेंगे। उन्होंने कहा, देखते हैं। मैं मैच जीतना चाहता हूं। मैं यहां अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहता हूं, जैसे मैं अपने हर टूर्नामेंट में करता हूं।

नडाल इन दिनों बेहतरीन फार्म में हैं. कुछ सीजन तक चोट से ग्रसित रहने के बाद वह अब तक छह खिताब जीत चुके हैं। इनमें 10वीं बार फ्रेंच ओपन खिताब और तीसरी बार अमेरिकी ओपन खिताब भी शामिल हैं और अब एटीपी रैंकिंग में नंबर वन होने से महज एक जीत दूर है।