Sangram Singh launches KD Jadhav Memorial Kushti Championship
Sangram Singh launches KD Jadhav Memorial Kushti Championship

नई दिल्ली। संग्राम सिंह (Sangram Singh) फाउंडेशन ने शुक्रवार को पहले केडी जाधव मेमोरियल अंतर्राष्ट्रीय कुश्ती चैम्पियनशिप के लांच की घोषणा की। यह टूर्नामेंट भारत के लिए कुश्ती में पहला ओलम्पिक पदक जीतने वाले केडी जाधव को श्रद्धांजलि होगा। वर्ल्ड प्रो रेसलिंग और कॉमनवेल्थ हेवीवेट चैम्पियन संग्राम ने खुद इस प्रतियोगिता के साथ मैट पर वापसी की घोषणा की। संग्राम ने कहा कि वह देश में कुश्ती की दशा और दिशा बदलना चाहते हैं और इसी लक्ष्य के साथ इस टूर्नामेंट का आयोजन कर रहे हैं।

संग्राम ने कहा, “केडी साहब सही मायनों में देश के नायक हैं और मेरे एकमात्र आदर्श हैं। हम इस प्रतियोगिता के जरिये जहां देश के प्रतिभाशाली युवा पहलवानों को मौका देंगे, वहीं खेल के महान नायक की स्मृति को भी संजो कर रखेंगे। हम ना सिर्फ कुश्ती की लोकप्रियता बढ़ाने का प्रयास करेंगे, बल्कि टियर 2 और टियर 3 शहरों के ज्यादा से ज्यादा युवाओं को तलाशने की कोशिश करेंगे।“

15 सितम्बर से शुरू होने वाले इस टूर्नामेंट का प्रसारण डीडी स्पोर्ट्स पर होगा। इसका प्रसारण समय शाम छह बजे से रात नौ बजे तक होगा। भारत के अलावा इस टूर्नामेंट का प्रसारण 25 अन्य देशों में होगा। चैम्पियनशिप में पेशेवर कुश्ती के नियम मान्य होंगे और यह मैट पर ही होगी लेकिन मैट ऊंचाई पर स्थित एक रिंग पर लगा होगा। इसमें एक मुकाबले में छह-छह मिनट के छह राउंड होंगे।

चैम्पियनशिप के उद्घाटन के अवसर पर भारत के लिए ओलम्पिक में एकमात्र व्यक्तिगत स्वर्ण जीतने वाले निशानेबाज अभिनव बिंद्रा, राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेता मुक्केबाज अखिल कुमार और ओलम्पिक मुक्केबाज जीतेंद्र कुमार मौजूद थे। अखिल और जीतेंद्र अब पेशेवर मुक्केबाज बन चुके हैं।

बिंद्रा, अखिल और जीतेंद्र ने संग्राम के इस पहल का स्वागत किया और इसे एक ऐसे खिलाड़ी के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि करार दिया, जिसके श्रेय को भारतीय खेल जगत, खासकर कुश्ती जगत में कभी भुलाया नहीं जा सकता। इन तीनों ने इस टूर्नामेंट की सफलता के लिए संग्राम सिंह फाउंडेशन को शुभकामनाएं दीं।

बिंद्रा ने कहा, “यह दिन भारतीय खेलों के लिए यादगार है। देश के पहले ओलंपिक पदक विजेता को श्रद्धांजलि देने का इससे बेहतर तरीका नहीं हो सकता था। मैं हमेशा से केडी जाधव का प्रशंसक रहा है।“ संग्राम सिंह ने कहा कि टूर्नामेंट के पहले संस्करण का आयोजन दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में होगा और इसके बाद इसे अलग-अलग शहरों में कराया जाएगा क्योंकि आयोजकों का सिर्फ और सिर्फ एक ही मकसद है और वह है जमीनी स्तर पर मौजूद प्रतिभा को सामने लाना और उन्हें अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका देना।

संग्राम सिंह ने यह भी कहा कि टूर्नामेंट के पहले संस्करण में पुरुष पहलवानों के साथ-साथ दो महिला पहलवान भी दिखाईं देंगी। इसके बाद के संस्करणों में मझोले और छोटे शहरों की प्रतिभाओं को भी शामिल करने का प्रयास किया जाएगा, जिनमें महिला पहलवान भी शामिल होंगी। संग्राम के मुताबिक इस प्रतियोगिता में युधिष्ठिर, लभांशु, शेरपाल, हिमांशु, श्रवण और प्रतीक जैसे युवा पहलवानो को शामिल किया गया है। यही नहीं दो महिला पहलवान एकता और आकांक्षा भी दो दो हाथ करती नजर आएंगी, लिहाजा कुश्ती प्रेमियों के लिए प्रतियोगिता काफी रोमांचक रहेगी।