नई दिल्ली। किसानों की आमदनी को दोगुना करने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लक्ष्य को पूरा करने वाली सात सूत्रीय कार्यनीति पर सरकार तेजी से आगे बढ़ी है। खेती में सुधार लाने के लिए गठित उप समितियों की रिपोर्ट दिसंबर में पेश की जाएंगी।

Narendra Modi
                           Narendra Modi

केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने यह जानकारी बृहस्पतिवार को कृषि मंत्रलय की सलाहकार समिति की बैठक में दी। संसद भवन में आयोजित बैठक में सिंह ने पिछले दो सालों की उपलब्धियों और अगले तीन सालों की योजनाओं पर किये जाने वाले क्रियान्वयन का ब्यौरा दिया।

उन्होंने सात सूत्रीय कार्यनीति के बारे में विस्तार से जानकारी दी। सिंह ने कहा कि ‘हर बूंद से अधिक उपज’ लेने की योजना के तहत सिंचाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया गया है।

मिट्टी की जांच और उसके अनुरूप खाद का प्रयोग व कटाई के बाद उपज के भंडारण की दिशा में कदम उठाये गये हैं। खाद्य प्रसंस्करण के जरिये मूल्यवर्धन, राष्ट्रीय कृषि मंडी की स्थापना और ई-मंडी को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

कृषि संबंधी जोखिम से बचाने के लिए फसल बीमा योजना शुरू कर दी गई है। खेती के साथ उससे जुड़े उद्यम पर विशेष ध्यान दिया गया है, जिनमें मुर्गी पालन, मधुमक्खी पालन और मछली पालन के साथ अन्य व्यवसायों पर बल दिया गया है। किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए मार्च 2017 में एक सप्ताह तक गंभीर विचार-विमर्श किया गया।