लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार बिल (Bill Gates) एण्ड मिलिण्डा गेट्स फाउण्डेशन के साथ मिलकर मस्तिष्क ज्वर (जेई और जापानी इंसेफेलाइटिस (एईएस) उन्मूलन के लिए टीकाकरण अभियान को और अधिक तेज करेगी।

UP government will sign MOU with Bill Gates Foundation: Yogi
UP government will sign MOU with Bill Gates Foundation: Yogi

उन्होंने कहा कि यह सरकार मातृ एवं नवजात शिशु तथा बच्चों के स्वास्थ्य सम्बन्धी सुविधाओं, टीकाकरण सहित स्वास्थ्य एवं कृषि सम्बन्धी विभिन्न कार्यक्रमों में तकनीकी, प्रबन्धकीय तथा कार्यक्रम डिजाइन में अगले पांच साल तक सहयोग प्राप्त करने के लिए संस्था के साथ एक सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर करेगी।

मुख्यमंत्री आज यहां शास्त्री भवन में बिल एण्ड मिलिण्डा गेट्स फाउण्डेशन के सह अध्यक्ष बिल गेट्स एवं उनकी टीम के साथ एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जेई-एईएस के नियंत्रण के लिए सरकार ने 38 जनपदों में अभियान चलाकर 92 लाख बच्चों का टीकाकरण किया।

हमने मिशन ‘इन्द्रधनुष’ के तहत 37 जनपदों के टीकाकरण से छूटे लगभग 26 लाख बच्चों का टीकाकरण भी कराया गया है। कुपोषण का जिक्र करते हुए सीएम ने गेट्स को प्रदेश के 39 जनपदों में चलाई जा रही ‘शबरी संकल्प योजना’ का के बारे में बताया।

योगी ने कहा कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर पर पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार के साथ-साथ नेपाल की लगभग 05 करोड़ आबादी के इलाज का गुरुत्तर दायित्व है।

उन्होंने कहा कि जेई एवं ए0ई0एस0 वेक्टर जनित रोग हैं। इसलिए इनकी रोकथाम के लिए टीकाकरण के साथ-साथ गांव-गांव में विशेष स्वच्छता अभियान के अलावा ड्रेनेज की व्यवस्था एवं शुद्ध पेयजल की उपलब्धता के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

UP government will sign MOU with Bill Gates Foundation: Yogi
UP government will sign MOU with Bill Gates Foundation: Yogi

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में लगभग 02 लाख आंगनबाड़ी केन्द्रों में 04 लाख आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि संस्था ऐसी तकनीक एवं सॉफ्टवेयर विकसित कराने में सहयोग दे जिससे आंगनबाड़ी केन्द्रों में आने वाले बच्चों एवं महिलाओं की स्वास्थ्य सम्बन्धी स्थिति की सतत् टै्रकिंग की जा सके।

योगी ने उत्तर प्रदेश औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति-2017 के बारे मं कहा कि इससे निवेश को प्रोत्साहित करने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा कि यूपी सर्वाधिक सॉफ्टवेयर का निर्यात करने वाला राज्य होने के साथ-साथ चीनी उत्पादन के मामले में भी प्रथम स्थान पर है। उन्होंने बिल गेट्स (Bill Gates) का आह्वान किया कि उनकी संस्था को प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में निवेश के लिए आगे आना चाहिए।

इस अवसर पर बिल गेट्स ने बताया कि उनकी संस्था वेक्टर जनित एवं जल जनित रोगों के नियंत्रण, पेयजल आपूर्ति, सैनिटेशन, मातृ एवं शिशु पोषण तथा कृषि उत्पादकता में वृद्धि करने वाली तकनीकों के क्षेत्र में राज्य सरकार को सहयोग देना चाहेगी।

उन्होंने सैनिटेशन/अपशिष्ट प्रबन्धन की नवीनतम तकनीकों के क्षेत्र में भी सहयोग की पेशकश की। गेट्स ने कहा कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज में जेई एवं एईएस मॉनीटरिंग सेण्टर की स्थापना में भी सहयोग देने के लिए भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद से वार्ता हुई है।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान में सिटी सैनिटेशन प्लान के अंतर्गत उन्नाव में गंगा नदी के तट पर एक पाइलेट परियोजना की स्थापना में भी उनकी संस्था सहयोग देने की इच्छुक है।

कृषि क्षेत्र में स्पेक्ट्रोस्कोपी तकनीक के माध्यम से मृदा परीक्षण एवं अधिक उत्पादकता वाले बीजों के प्रसार के लिए भी उनकी संस्था राज्य सरकार को सहयोग प्रदान करना चाहेगी। इस अवसर पर माइक्रोसॉफ्ट के साथ डिजिटल डैश बोर्ड के सम्बन्ध में भी चर्चा हुई।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने भगवान बुद्ध की प्रतिमा देकर बिल गेट्स का स्वागत किया।

मुख्य सचिव राजीव कुमार ने कहा कि शीघ्र ही विभागवार कार्यक्रमों एवं योजनाओं की प्राथमिकता तय करते हुए प्रदेश की जरूरत को दृष्टिगत रखकर बिल एण्ड मिलिण्डा गेट्स फाउण्डेशन के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर किया जाएगा।